राजनीति

हरियाणा में किसान मित्र योजना होगी शुरू, बजट में फलों के बागों पर सब्सिडी बढ़ाई गई

By Arvind Kumar -- March 12, 2021 1:31 pm -- Updated:March 12, 2021 1:31 pm

चंडीगढ़। बजट भाषण में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने घोषणा करते हुए कहा कि सरकार किसान मित्र योजना नाम से एक नई योजना शुरू करने जा रही है। यह योजना किसानों के सशक्तिकरण के लिए वित्तीय सेवाएं सुनिष्चित करने हेतु हरियाणा सरकार की सर्वाधिक महत्वपूर्ण पहलों में से एक है।

हरियाणा का 'मनोहर' बजट, वृद्धावस्था पेंशन बढ़ी, किसानों के लिए नई योजना

इसका मुख्य उद्देश्य किसानों को नकदी निकालने, नकदी जमा कराने, शेष राशि की जानकारी देने, पिन बदलने, नई पिन बनाने, मिनी स्टेटमेंट, चैक बुक के लिए अनुरोध, आधार नम्बर अपडेषन, ऋण के लिए अनुरोध, मोबाइल नम्बर अपडेशन, समस्याओं के पंजीकरण और फीड बैक इत्यादि जैसी विविध सेवाओं के माध्यम से सुविधाएं देना है। इस योजना में बैंकों की सांझेदारी में राज्य में 1000 किसान एटीएम स्थापित करने की परिकल्पना की गई है।
यह भी पढ़ें- राकेश टिकैत बोले- आंदोलन 2024 तक भी चल सकता है

यह भी पढ़ें- हरियाणा विधानसभा में कांग्रेस का अविश्वास प्रस्ताव औंधे मुंह गिरा

आम, अमरूद और सिट्रस फलों के बागों पर सब्सिडी की सीमा 16000 रुपये से बढ़ाकर 20000 रुपये प्रति एकड़ की गई है। अमरूद के लिए एक उत्कृष्टता केंद्र स्थापित किया गया है।
हरियाणा में 70 लाख पशुधन है। सरकार ने पशुधन के लिए ‘पंडित दीन दयाल उपाध्याय सामूहिक पषुधन बीमा योजना’ का विस्तार करके पशुधन बीमा करने का निर्णय लिया है। पशुपालकों को इस योजना के लिए पात्र होने के लिए अनिवार्य रूप से अपने पशुओं के कान पर 12 अंकों की आईडी वाला टैग लगवाना होगा।

CM Manohar Lal Budget Announcements हरियाणा का 'मनोहर' बजट, वृद्धावस्था पेंशन बढ़ी, किसानों के लिए नई योजना

हमारी संस्कृति में गायों के महत्व को देखते हुए, सरकार ने गऊ संवर्धन योजना शुरू करने का निर्णय लिया है। इस उद्देष्य के लिए वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 50 करोड़ रुपये आबंटित किए गए हैं।

मत्स्यपालक किसानों की आय को दोगुना करने के उद्देश्य से, हरियाणा सरकार द्वारा 2021-22 से 2024-25 के दौरान प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के तहत 1090 हेक्टेयर लवणता प्रभावित क्षेत्र और 5000 हेक्टेयर ताजा पानी वाले अतिरिक्त क्षेत्र का विकास किया जाएगा। ‘प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना’ के तहत, वर्ष 2021-22 से 2024-25 तक 10 स्माल फिश फ़ीड मिल प्लांट यूनिट स्थापित की जाएंगी।

दक्षिणी हरियाणा में एक नया दुग्ध संयंत्र स्थापित करने का प्रस्ताव है, जो राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र को कवर करेगा। इसकी पैकिंग क्षमता 3 लाख लीटर प्रतिदिन की होगी। इसे 5 लाख लीटर प्रतिदिन तक बढ़ाया जा सकेगा। जिला भिवानी के गांव शेरला में एक लघु दुग्ध संयंत्र की स्थापना प्रस्तावित है।

  • Share