Sat, Dec 2, 2023
Whatsapp

अनिल विज के मंत्रालयों में हो सकता है बदलाव, दिल्ली में केंद्रीय नेतृत्व के साथ करेंगे चर्चा CM मनोहर लाल!

हरियाणा मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) के हेल्थ डिपार्टमेंट में दखल से नाराज चल रहे अनिल विज के महकमों में बदलाव की तैयारी चल रही है।

Written by  Rahul Rana -- October 30th 2023 11:21 AM
अनिल विज के मंत्रालयों में हो सकता है बदलाव, दिल्ली में केंद्रीय नेतृत्व के साथ करेंगे चर्चा CM मनोहर लाल!

अनिल विज के मंत्रालयों में हो सकता है बदलाव, दिल्ली में केंद्रीय नेतृत्व के साथ करेंगे चर्चा CM मनोहर लाल!

ब्यूरो : हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज अपनी दबंगई के लिए जाने जाते हैं। जिसके चलते वह कई बार अफसरों पर भी उन्होंने मौके पर ही कार्रवाई की है ताकि लोगों को किसी तरह की परेशानी ना हो। इसके लिए वह समय - समय पर जनता दरबार भी लगाते हैं । हालांकि अब अनिल विज से कुछ विभाग छिन सकते हैं । 

यहां जाने पूरा मामला 


दरअसल हरियाणा मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) के हेल्थ डिपार्टमेंट में दखल से नाराज चल रहे अनिल विज के महकमों में बदलाव की तैयारी चल रही है। CM मनोहर लाल के अनिल विज से हेल्थ डिपार्टमेंट वापस लेने की चर्चा हैं। इसके बदले में उन्हें शहरी स्थानीय निकाय विभाग की जिम्मेदारी वापस दी जा सकती है। हरियाणा सरकार के सूत्रों के अनुसार विज से हेल्थ वापस लेकर कैबिनेट मंत्री डॉ कमल गुप्ता को स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी दी जा सकती है। विज के महकमों के बदलाव को लेकर जल्द ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर दिल्ली में केंद्रीय नेतृत्व के साथ चर्चा करेंगे। बताया यह भी जा रहा है कि अनिल विज भी हेल्थ डिपार्टमेंट में CMO के दखल और पहले के कुछ मामलों की शिकायत केंद्रीय नेतृत्व में करने की तैयारी कर रहे हैं।


आपको बता दें कि अनिल विज के पास अभी 4 विभाग हैं। इसमें हेल्थ डिपार्टमेंट, गृह मंत्रालय, मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च और आयुष शामिल हैं। 10 महीने पहले हरियाणा में हुए 12 विभागों के मर्जर के बाद गृह मंत्री को दो विभाग छोड़ने पड़े थे। गृह मंत्री को इस बदलाव के कारण 2 विभाग वापस ले लिए गए थे। इसमें साइंस एंड टेक्नोलॉजी और तकनीकी शिक्षा चले गए थे।

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज से 4 साल पहले CID वापस ले लिया गया था। इसके बाद यह पोर्टफोलियो सीएम मनोहर लाल के विभागों में शामिल कर दिया गया था। गृहमंत्री अनिल विज और सीएम मनोहर लाल के बीच इसको लेकर करीब डेढ़ माह तक विवाद चला था। विवाद की शुरुआत CMO के दो अफसरों को विज के विभागों में लगाए जाने से हुई थी।


सरकार ने सीएम के प्रिंसिपल सेक्रेटरी राजेश कुमार खुल्लर को गृह विभाग में अतिरिक्त मुख्य सचिव और सीएम के एडिशनल प्रिंसिपल सेक्रेटरी वी. उमाशंकर को नगर निकाय में प्रधान सचिव का कार्यभार दिया था। सीएमओ के अफसरों को अपने महकमे में लगाए जाने से विज नाराज हुए और यहीं से विवाद शुरू हुआ था।

हालांकि PTC NEWS इस खबर की पुष्टि नहीं करता है यह खबर मीडिया सूत्रों के हवाले से ली गई है।   


- PTC NEWS

adv-img

Top News view more...

Latest News view more...