Sun, May 19, 2024
Whatsapp

Uttarakhand Forest Fire: उत्तराखंड जंगल आग मामले में सुप्रीम कोर्ट सख्त, 15 मई को होगी सुनवाई

उत्तराखंड के जंगलों में लगी आग की घटना को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने 15 मई को सुनवाई तय की है। सुप्रीम कोर्ट ने उत्तराखंड सरकार और याचिकाकर्ताओं को मूल्यांकन और राय के लिए अपनी रिपोर्ट CEC को सौंपने का निर्देश दिया।

Written by  Deepak Kumar -- May 08th 2024 05:09 PM
Uttarakhand Forest Fire: उत्तराखंड जंगल आग मामले में सुप्रीम कोर्ट सख्त, 15 मई को होगी सुनवाई

Uttarakhand Forest Fire: उत्तराखंड जंगल आग मामले में सुप्रीम कोर्ट सख्त, 15 मई को होगी सुनवाई

ब्यूरोः उत्तराखंड के जंगलों में लगी आग की घटना को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने 15 मई को सुनवाई तय की है। सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने उत्तराखंड सरकार और याचिकाकर्ताओं को मूल्यांकन और राय के लिए अपनी रिपोर्ट केंद्रीय अधिकार प्राप्त समिति (CEC) को सौंपने का निर्देश दिया। 

सुप्रीम कोर्ट ने अपने निर्देश में उत्तराखंड सरकार और मामले से जुड़े याचिकाकर्ताओं दोनों को अपनी-अपनी रिपोर्ट केंद्रीय अधिकार प्राप्त समिति के साथ साझा करने का निर्देश दिया। इस कदम का उद्देश्य घटना के व्यापक मूल्यांकन को सुविधाजनक बनाना है।


न्यायमूर्ति बी आर गवई और न्यायमूर्ति संदीप मेहता की पीठ के समक्ष सुनवाई में राज्य सरकार ने खुलासा किया कि पिछले साल नवंबर से उत्तराखंड में 398 जंगल की आग देखी गई, जिनमें से सभी को मानवीय गतिविधियों के लिए जिम्मेदार ठहराया गया था।

राज्य सरकार ने पीठ को सूचित किया कि उसने जंगल की आग के संबंध में 350 आपराधिक मामले शुरू किए हैं, जिनमें 62 व्यक्तियों को संदिग्धों के रूप में नामित किया गया है। इसके अतिरिक्त सरकार ने कार्यवाही के दौरान एक अंतरिम स्थिति रिपोर्ट भी पेश की। राज्य के वकील ने स्पष्ट किया कि सार्वजनिक धारणा के बावजूद उत्तराखंड के वन्यजीव क्षेत्र का केवल 0.1 प्रतिशत हिस्सा आग से प्रभावित हुआ है, जिससे उन अफवाहों को खारिज कर दिया गया कि राज्य का 40 प्रतिशत हिस्सा आग की चपेट में था। वहीं, मामले की अगली सुनवाई 15 मई के लिए स्थगित कर दी गई है।

- PTC NEWS

Top News view more...

Latest News view more...

LIVE CHANNELS
LIVE CHANNELS