राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने करनाल लाठीचार्ज को लेकर DC और SP से तलब की रिपोर्ट

By Arvind Kumar - September 02, 2021 4:09 pm

चंडीगढ़। हरियाणा कांग्रेस की शिकायत पर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने करनाल के बसताड़ा टोल प्लाज़ा पर 28 अगस्त को किसानों पर हुए बर्बर लाठीचार्ज को लेकर करनाल के जिला उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक से रिपोर्ट तलब की है। रिपोर्ट सौंपने के लिए चार सप्ताह का समय दिया गया है। यह जानकारी हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने यहां जारी बयान में दी।

हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग के कदम का स्वागत करते हुए कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि इस कदम से किसानों को न्याय मिलने का रास्ता प्रशस्त होगा। कुमारी सैलजा ने कहा कि राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग के इस कदम के बाद उन्हें उम्मीद है कि प्रशासन बिना लीपापोती किए, निष्पक्ष तरीके से जांच कर रिपोर्ट राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग को सौंपेगा और तुरंत प्रभाव से दोषी दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें- हुड्डा नहीं, मुख्यमंत्री खट्टर कर रहे हैं किसानों को उकसाने का काम: दीपेन्द्र हुड्डा

यह भी पढ़ें- कश्मीर से 60 युवाओं के लापता होने की खबर का पुलिस ने किया खंडन

कुमारी सैलजा ने कहा कि किसानों पर हुए लाठीचार्ज को लेकर कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल दो दिन पहले राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग से मिला था। हमने सारी बातें आयोग के सामने रखी थी। आयोग को पेन ड्राइव दिया, मीडिया की रिपोर्ट्स दीं थी और राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग को ज्ञापन सौंपकर किसानों को न्याय दिलवाने की गुहार लगाई थी।

कांग्रेस पार्टी ने आयोग से मांग की थी कि इस लाठीचार्ज को अंजाम देने वाले अपराधियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए और उनके खिलाफ मुकदमे दर्ज किए जाएं। राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ने कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया था।

adv-img
adv-img