किसानों ने नेताओं की नो एंट्री के लगाए बैनर, बोले- कोई नेता हमारे गांव में ना आए

Farmer Protest Haryana, Farm Law 2020, No Entry of Political Leaders in Village, No Entry Banner,
किसानों ने नेताओं की नो एंट्री के लगाए बैनर, बोले- कोई नेता हमारे गांव में ना आए

टोहाना। (सतीश अरोड़ा) तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान सिरसा व प्रदेश के अन्य स्थानों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। मगर विधायक व नेताओं द्वारा उनका समर्थन ना करने के चलते किसानों में नेताओ के प्रति रोष बढ़ता जा रहा है। जाखल के गांव चांदपुरा के किसानों ने भाजपा-जजपा के नेताओं की गांव में एंट्री बैन करने के बैनर तक लगा दिए हैं।

Farmer Protest Haryana, Farm Law 2020, No Entry of Political Leaders in Village, No Entry Banner,
किसानों ने नेताओं की नो एंट्री के लगाए बैनर, बोले- कोई नेता हमारे गांव में ना आए

इस दौरान किसानों ने विधायक देवेंद्र सिंह बबली को इस्तीफा देकर समर्थन देने व निशान सिंह को दुष्यंत चौटाला पर दबाव बनाकर इस्तीफा दिलवाने की मांग की। किसानों ने चेतावनी देते हुए कहा कि जो नेता किसानों का साथ देगा उसे ही गांव में आने दिया जाएगा। अन्यथा किसी नेता को गांव में आने की जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़ेंकृषि मंत्री जेपी दलाल का जबरदस्त विरोध, किसानों और PTI टीचरों ने दिखाए काले झंडे

Farmer Protest Haryana, Farm Law 2020, No Entry of Political Leaders in Village, No Entry Banner,
किसानों ने नेताओं की नो एंट्री के लगाए बैनर, बोले- कोई नेता हमारे गांव में ना आए

किसानों ने कहा कि टोहाना में तीन बड़े नेता हैं लेकिन कोई भी किसानों के समर्थन में नहीं आया है। उन्होंने कहा कि विधायक देवेंद्र सिंह बबली को किसानों के समर्थन में इस्तीफा देकर आना चाहिए नहीं तो उन्हे गांव में नहीं आने दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: फसलें एमएसपी पर नहीं खरीदी गई तो सबसे पहले दूंगा इस्तीफा: दुष्यंत चौटाला

Farmer Protest Haryana, Farm Law 2020, No Entry of Political Leaders in Village, No Entry Banner,
किसानों ने नेताओं की नो एंट्री के लगाए बैनर, बोले- कोई नेता हमारे गांव में ना आए

वहीं किसानों ने कहा कि जजपा प्रदेशाध्यक्ष निशान सिंह को डिप्टी सीएम पर दबाव बनाकर इस्तीफा दिलवाना चाहिए।