किसान आंदोलन पर कैप्टन के बयान से गरमाई सियासत, जेपी दलाल और अनिल विज ने किया पलटवार

By Arvind Kumar - September 14, 2021 10:09 am

चंडीगढ़। किसान आंदोलन को लेकर पंजाब और हरियाणा में सियासी तकरार लगातार जारी है। इस बीच आंदोलन को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने बड़ा बयान दिया है। कैप्टन अमरिंदर ने अपने बयान में कहा कि किसान संगठन अपना आंदोलन...सिर्फ हरियाणा और दिल्ली में ही करें लेकिन पंजाब में कोई धरना या आंदोलन न करें।


कैप्टन ने किसानों से अपील की कि किसान पंजाब में आंदोलन करके पंजाब की आर्थिकता को नुकसान न पहुंचाएं। कैप्टन ने कहा कि कांग्रेस सरकार किसानों की हितैषी रही है और हमेशा किसानों के हक में आवाज बुलंद की है। गन्ने की कीमत 360 रुपये प्रति क्विंटल की गई है जिससे किसानों को सीधा लाभ हुआ है।

कैप्टन के इस बयान को लेकर हरियाणा की सियासत गरमा गई है। पंजाब और हरियाणा के मंत्रियों में इसे लेकर सियासी खींचतान शुरू हो गई है। हरियाणा के मंत्री जेपी दलाल ने इसे लेकर प्रतिक्रिया दी है। जेपी दलाल ने कहा है कि अगर कैप्टन अमरिंदर को किसानों की इतनी ही चिंता है तो वो हरियाणा, दिल्ली और पूरे देश के किसानों की भी चिंता करें। दलाल ने कहा कि आंदोलन करने वाले किसान पंजाब के ही हैं और कैप्टन किसानों को भड़काने का काम कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- 4 महीने से वेतन नहीं मिलने से गुस्साए कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

यह भी पढ़ें- सरकारी विभागों पर प्रदूषण नियंत्रण विभाग का चला चाबुक

वहीं कैप्टन अमरिंदर सिंह के बयान पर हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। अनिल विज ने कहा है कि कैप्टन अमरिंदर का ये बयान बहुत ही गैर जिम्मेदाराना है। उन्होंने कहा कि कैप्टन के इस बयान से ये लगता है कि किसानों को भड़काने का काम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ही किया है और उनके इन बयानों से ये बात जाहिर भी हो रही है।

adv-img
adv-img