किसान आंदोलन के दौरान सेवा करने वाले समाजसेवी रामसिंह राणा सम्मानित

कुरुक्षेत्र। देश में पिछले 6 महीने से भी ज्यादा समय से चल रहे किसान आंदोलन में हर किसी ने किसानों का समर्थन करते हुए पूर्ण रूप से सहयोग किया। एक तरह जहां सामाजिक संस्थाओं के साथ साथ धार्मिक संस्थाओं ने सहयोग किया तो वहीं दूसरी ओर सोनीपत निवासी गोल्डन हट होटल के मालिक एवम समाजसेवी रामसिंह राणा ने समाजसेवा की एक बड़ी मिसाल पेश की।

26 नवंबर 2020 से देश में चल रहे किसान आंदोलन के पहले दिन से ही रामसिंह राणा अपनी 3 एकड़ की जमीन बेच कर किसानों की सेवा कर रहे है। उनकी इस सेवा को देखते हुए शिरोमणि अकाली दल प्रदेश प्रवक्ता व हरियाणा सिख परिवार की ओर से कुरुक्षेत्र के ऐतिहासिक गुरुद्वारा साहिब छठी पातशाही में सिरोपा पहनाकर स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

यह भी पढ़ें- हरियाणा में कैबिनेट फेरबदल की चर्चाओं का सीएम ने किया खंडन

यह भी पढ़ें- पीएम किसान सम्मान निधि पाने वाले किसानों की मुश्किलें बढ़ीं

अकाली दल के प्रदेश प्रवक्ता वह हरियाणा सिख परिवार के प्रदेशाध्यक्ष कंवलजीत सिंह अजराना ने कहा कि आज के समय में बहुत ही कम लोग बचे हैं जो दूसरों के लिए अपनी जीवनभर की पूंजी लगा दें। किसान आंदोलन के दौरान रामसिंह राणा ने वो मिसाल पेश की है, जिसके हम ऋणी है।

वहीं बातचीत करते हुए समाजसेवी राम सिंह राणा ने कहा कि जब तक किसान आंदोलन जारी रहेगा तब तक उनकी ओर से तमाम सेवाएं जारी रहेंगी। आपको बता दें कि राम सिंह राणा का सोनीपत कुंडली बॉर्डर के बीच बहुत बड़ा होटल है और जब से किसानी आंदोलन चल रहा है। तब से ग्राहकों के लिए होटल को पूर्ण रूप से बंद कर मात्र किसानों के लिए होटल में तमाम सुविधाएं मुहैया करवाई गई हैं।