पीएम किसान सम्मान निधि पाने वाले किसानों की मुश्किलें बढ़ीं

यमुनानगर। (तिलक भारद्वाज) यमुनानगर के कस्बा रादौर क्षेत्र में पीएम किसान सम्मान निधि पाने वाले ऐसे किसानों की मुसीबतें बढ़ गई हैं, जोकि या तो इनकम टैक्स पेयी हैं, या फिर ऐसे रिटार्यड कर्मचारी है जोकि 10 हजार से अधिक पेंशन पा रहे हैं। इसके अलावा ऐसे किसानों को भी सम्मान निधि वापिस करने होगी जो एक ही परिवार में दो सम्मान निधि पेंशन पा रहे हैं। रादौर क्षेत्र में ऐसे 376 किसान हैं, जिनसे कृषि विभाग 36 लाख से अधिक की राशि रिकवर करेगा।

यमुनानगर के कस्बा रादौर खंड कृषि अधिकारी राकेश अग्रवाल ने बताया कि रादौर क्षेत्र में 376 किसानों से 36 लाख से अधिक की राशि रिकवर करने के लिए उनके पास संदेश भेजे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने इनकम टैक्स अदा करने वाले, 10 हजार से अधिक पेंशन लेने वाले, व एक ही परिवार में दो लोगों द्वारा इस योजना के तहत राशि लेने वाले किसानों को अब इस योजना के तहत मिली राशि को वापिस करना होगा।

यह भी पढ़ें- मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने की 1100 करोड़ रुपये से अधिक के राहत पैकेज की घोषणा

यह भी पढ़ें- सीबीएसई 12वीं बोर्ड के 31 जुलाई तक घोषित होंगे नतीजे


उन्होंने बताया कि ऐसे किसान इस योजना के तहत पात्र नहीं है। उपरोक्त किसानों द्वारा योजना के तहत ली गई राशि की रिकवरी अब कृषि विभाग कर रहा है। उन्होंने बताया कि रादौर क्षेत्र में 376 किसान ऐसे पाये गये हैं, उनसे विभाग द्वारा लगभग 36 लाख, 88 हजार रुपये की रिकवरी की जानी है। रिकवरी को लेकर विभाग की ओर से उपरोक्त किसानों को चेक या डीडी द्वारा ली गई राशि वापिस करने बारे सन्देश भेजे जा रहे हैं।