खेल

शानदारा! हरियाणा की दादी का कमाल, विश्व मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप में जीते चार मेडल

By Vinod Kumar -- July 12, 2022 12:06 pm

भारत की 94 वर्षीय धावक भगवानी देवी ने फिनलैंड के टाम्परे में आयोजित विश्व मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 100 मीटर स्प्रिंट में स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने 24.74 सेकेंड के समय के साथ स्वर्ण पदक अपनी झोली में डाला। चैंपियनशिप में भगवानी देवी ने गोल्ड के अलावा दो ब्रॉन्ज मेडल भी जीते हैं।

भगवानी देवी ने शॉटपुट में भी कांस्य पदक हासिल किया। "भारत की 94 वर्षीय भगवान देवी ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि उम्र कोई बाधा नहीं है। भगवानी देवी की सफलता पर युवा मामले और खेल मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा कि भारत की 94 वर्षीय भगवानी देवी ने एकबार फिर बतला दिया है कि उम्र तो सिर्फ संख्या है। उन्होंने गोल्ड और और ब्रॉन्ज मेडल जीता। वाकई में साहसिक प्रदर्शन।

वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप 29 जून से 10 जुलाई तक टाम्परे में आयोजित की गई थी। यह 35 वर्ष और उससे अधिक आयु के पुरुष और महिला एथलीटों के लिए एथलेटिक्स (ट्रैक एंड फील्ड) के खेल के लिए एक विश्व चैंपियनशिप-कैलिबर इवेंट है।

वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप की शुरुआत 1975 में की गई थी। इस चैंपियनशिप में 35 साल से ऊपर आयु वर्ग के खिलाड़ी भाग ले सकते हैं। शुरुआत में केवल 5 ऐज ग्रुप को शामिल किया गया था, लेकिन अब 12 एज ग्रुप में स्पोर्ट्स इवेंट्स आयोजित कराए जाते हैं।

  • Share