राजनीति

फिर नए विवाद में घिरी भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट

By Arvind Kumar -- August 11, 2021 10:16 am -- Updated:August 11, 2021 10:16 am

हांसी। (संदीप सैनी) भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट (Sonali Phogat) नए विवाद में घिरती हुई नजर आ रही हैं। फेसबुक पर लाइव के दौरान अनुसूचित जाति से संबंधित प्रतिबंधित शब्द का इस्तेमाल करने पर एक्टिविस्ट रजत कलसन ने उन्हें कानूनी नोटिस भेजा है। कलसन ने सोनाली फोगाट से सार्वजनिक रूप से माफी मांगने की बात कही है।

आपको बता दें कि बीते 24 जुलाई को सोनाली फोगाट आदमपुरा के बालसमंद क्षेत्र के कार्यकर्ताओं की मीटिंग में शामिल होने पहुंची थी। इस दौरान किसानों ने मीटिंग का विरोध भी कर दिया था और इसी बीच सोनाली फोगाट फेसबुक पर लाइव आई थी। अधिवक्ता रजत कलसन ने आरोप लगाया है कि इसी वीडियो में सोनाली फोगाट से अनुसूचित जाति से संबंधित एक शब्द का इस्तेमाल किया जो केंद्र व राज्य सरकार द्वारा प्रतिबंधित किया गया है।

उन्होंने कहा कि सोनाली फोगाट के सोशल मीडिया पर लाखों फॉलोवर्स, जिन्होंने सभी ने इस वीडियो को देखा व इस वीडियो के माध्यम से सोनाली फोगाट ने पूरे अनुसूचित जाति वर्ग को अपमानित करने का काम किया है। कलसन ने कहा कि इस बारे में 1982 में ही गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को नोटिफिकेशन जारी कर इस शब्द पर रोक लगाने के आदेश जारी किए हुए हैं। उन्होंने बताया कि एक मामले में सुप्रीम कोर्ट भी इस शब्द के इस्तेमाल को अपराधिक व अपमानजनक मान चुका है। रजत कलसन ने कहा कि सोनाली फोगाट को अपने अधिवक्ता प्रवेश महिपाल के तहत मार्फत नोटिस भिजवाया है, अगर 15 दिन के अंदर फेसबुक पर लाइव आकर इस विषय पर माफी नहीं मांगी तो आपराधिक मुकदमा दर्ज करवाया जाएगा।

यह भी पढ़ें- हिमाचल में 22 अगस्त तक स्कूल बंद, बाहरी राज्यों से आने वाले व्यक्तियों के लिए बदला नियम

यह भी पढ़ें- दो बहनों की गैंगरेप के बाद हत्या, आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस टीमें कर रही छापेमारी


बता दें कि एक्टिविस्ट व अधिवक्ता रजत कलसन अनुसूचित जाति के अधिकारों को लेकर लंबे समय से काम कर रहे हैं। इससे पूर्व कलसन क्रिकेटर युवराज सिंह, अभिनेत्री युविका चौधरी व मुनमुन दत्ता के खिलाफ भी शिकायत दे चुके हैं। इन मामलों में पुलिस जांच कर रही है। अब सोनाली फोगाट के खिलाफ प्रतिबंधित शब्त इस्तेमाल करने पर नोटिस भेजा गया है।

  • Share