संयुक्त किसान मोर्चा से सस्पेंड हुए चढूनी, वीडियो संदेश में बोले- केवल विचारधारा रखी थी

By Arvind Kumar - July 15, 2021 9:07 am

चंडीगढ़। तीन कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन में अब फूट पड़ती नजर आ रही है। किसान नेताओं में ही आपस में मतभेद हो गए हैं। जिसके चलते संयुक्त किसान मोर्चा ने हरियाणा से भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चढूनी को मोर्चे से एक सप्ताह के लिए सस्पेंड कर दिया है। मोर्चे का कहना है कि बार-बार मना करने के बावजूद चढूनी मिशन पंजाब के नाम पर राजनीति कर रहे थे।

वहीं चढूनी ने कहा है कि उन्होंने केवल एक विचारधारा रखी थी। किसी की भी विचारधारा को जबरदस्ती दबाया नहीं जा सकता। हालांकि उन्होंने कहा कि वो आंदोलन को पहले की तरह समर्थन देते रहेंगे।


यह भी पढ़ें- इनेलो के पूर्व प्रत्याशी सूरज प्रकाश जिंदल जेजेपी में शामिल

यह भी पढ़ें- देश का पहला अनाज ATM हरियाणा में

उल्लेखनीय है कि तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान सात महीने से दिल्ली बॉर्डर पर बैठे हैं। किसान सरकार से कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हैं। हालांकि सरकार इन कानूनों को वापस लेने के लिए सहमत नहीं है। ऐसे में संघर्ष लंबा खिंचता जा रहा है और अब किसान आंदोलन में फूट पड़ती नजर आ रही है।

adv-img
adv-img