हरियाणा

सिरसा के दर्जनों गांवों के लोगों ने शुरू किया जल सत्याग्रह, यह है वजह

By Arvind Kumar -- June 21, 2019 1:03 pm

सिरसा। (सुरेंद्र सावंत) गीगोरानी माइनर के टेल तक पानी नहीं पहुंचने से आक्रोशित दर्जनों गांव के किसानों ने माइनर के भीतर बैठकर जल सत्याग्रह आंदोलन शुरू किया। प्रदर्शनकारी किसानों का कहना है कि गीगोरानी माइनर की रीमॉडलिंग में भारी भ्रष्टाचार किया गया है। उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों व ठेकेदारों पर भ्रष्टाचार करने का आरोप जड़ा।

Farmer Sirsa 1 सिरसा के दर्जनों गांवों के लोगों ने शुरू किया जल सत्याग्रह, यह है वजह

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि यही वजह है कि गीगोरानी माइनर की टेल तक अभी तक पानी नहीं पहुंचा है, जिसके चलते टेल पर पड़ने वाले करीब दर्जन भर गांवों के किसानों को सिंचाई जल के लिए परेशानी उठानी पड़ रही है। किसानों के खेतों में फसल नहीं हो रही और ना ही तूड़ी का प्रबंध हो पा रहा है। उन्होंने कहा कि यदि उनकी मांगे पूरी नहीं की गई तो यह जल सत्याग्रह अनिश्चितकालीन तक चलता रहेगा। उन्होंने कहा कि धरना प्रदर्शन में किसान परिवारों की महिलाएं व बच्चे भी शामिल होंगे।

यह भी पढ़ें : गंभीर बीमारी से जूझ रही यह बच्ची, इलाज के लिए आपकी मदद की जरूरत

Farmer Sirsa 3 सिरसा के दर्जनों गांवों के लोगों ने शुरू किया जल सत्याग्रह, यह है वजह

किसान नेता विकल पचार ने कहा कि पिछले लंबे समय से वह गीगोरानी माइनर के टेल तक पानी मांगने के लिए संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन सरकार व प्रशासन उनकी सुनवाई नहीं कर रहा। इसी के रोष स्वरूप दर्जनभर गांवों के किसानों ने माइनर के भीतर बैठकर जल सत्याग्रह शुरू किया है। उन्होंने कहा कि गीगोरानी माइनर व जिला की अन्य माइनरों की रीमॉडलिंग में सिंचाई विभाग के ठेकेदारों व कर्मचारियों ने भ्रष्टाचार किया है, जिसके चलते नहरों की टेल तक 6 इंच भी पानी नहीं आ रहा। यही वजह है कि किसानों को आंदोलन करने पर मजबूर होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं होती आंदोलन जारी रहेगा।

—PTC NEWS—

पंजाब-हरियाणा व देश दुनिया की खबरें देखने के लिए सब्सक्राइब करें हमारा यू ट्यूब चैनल

  • Share