Teachers Day 2021: जाने डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जीवन से जुड़ी पांच खास बातें

By Arvind Kumar - September 04, 2021 9:09 am

नई दिल्ली। देशभर में 5 सितंबर को शिक्षक दिवस (Teachers Day 2021) धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म दिवस होता है। वे एक महान शिक्षक होने के साथ-साथ स्वतंत्र भारत के पहले उपराष्ट्रपति तथा दूसरे राष्ट्रपति थे। उन्हीं के जन्म दिवस के अवसर पर उनकी स्मृति में देशभर में 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है।

आइए जानते हैं डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जीवन के बारे में पांच खास बातें

  • डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर, 1888 को तिरुत्तानी शहर में एक तेलुगु परिवार में हुआ था। उन्होंने तिरुपति और फिर वेल्लोर के स्कूलों में अध्ययन किया। उन्होंने जीवन भर विभिन्न छात्रवृत्तियां प्राप्त कीं।

  • डॉ. राधाकृष्णन ने क्रिश्चियन कॉलेज, मद्रास से दर्शनशास्त्र का अध्ययन किया। उन्हें भारत के इतिहास में अब तक के सबसे महान दार्शनिकों में से एक माना जाता है।
  • अपनी डिग्री पूरी करने के बाद, वे मद्रास प्रेसीडेंसी कॉलेज में दर्शनशास्त्र के प्रोफेसर बने और बाद में मैसूर विश्वविद्यालय में दर्शनशास्त्र के प्रोफेसर बने।

  • डॉ राधाकृष्णन को 1962 में भारत के दूसरे राष्ट्रपति के रूप में नियुक्त किया गया था और उन्होंने 1967 तक इस पद पर कार्य किया।

  • उनकी कुछ उल्लेखनीय रचनाएँ हैं: Philosophy of Rabindranath Tagore, Reign of Religion in Contemporary Philosophy, The Hindu View of Life, An Idealist View of Life, Kalki or the Future of Civilisation, The Religion We Need, Gautama the Buddha, India and China.
adv-img
adv-img