राजनीति

किसी ने राजनैतिक पार्टी के नेता के बहिष्कार की घोषणा की तो सदन करेगा निंदा

By Arvind Kumar -- March 16, 2021 10:21 am -- Updated:March 16, 2021 10:21 am

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बजट सत्र के दौरान एक पंक्ति का प्रस्ताव पेश किया कि समाज का कोई भी वर्ग या संगठन किसी राजनैतिक पार्टी के नेता के बहिष्कार की घोषणा करता है तो यह सदन उसकी निंदा करता है। मुख्यमंत्री ने यह भी प्रस्ताव रखा कि यदि आवश्यक हो तो सदन में प्रस्ताव पर वोटिंग करवाई जाए।

किसी ने राजनैतिक पार्टी के नेता के बहिष्कार की घोषणा की तो सदन करेगा निंदा

सदन में यह प्रस्ताव ध्वनि मत से पारित हुआ और भाजपा व निर्दलीय विधायकों ने मेज थपथपाकर प्रस्ताव का समर्थन किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र की रक्षा के लिए जितनी जिम्मेदारी सत्ता पक्ष की होती है उतनी ही जिम्मेदारी विपक्ष की भी होती है।

यह भी पढ़ें- किसानों ने सीएम, डिप्टी सीएम सहित विधायक का पुतला फूंका

यह भी पढ़ें-नहर में मिला लड़की का शव, शरीर पर चोट के निशान

 

Boycott Of Political Party Leader किसी ने राजनैतिक पार्टी के नेता के बहिष्कार की घोषणा की तो सदन करेगा निंदा

विपक्ष के नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने स्पष्ट किया कि कांग्रेस पार्टी का कोई भी विधायक किसी संगठन या वर्ग को राजनेताओं का बहिष्कार करने के लिए उकसा नहीं रहा है और न ही उकसाने के लिए कहेगा।

Boycott Of Political Party Leader किसी ने राजनैतिक पार्टी के नेता के बहिष्कार की घोषणा की तो सदन करेगा निंदा

हालांकि वोटिंग के समय कांग्रेस पार्टी के विधायकों ने वॉकआउट किया। गौरतलब है कि यह प्रस्ताव ऐसे समय में पास हुआ है जब जेजेपी और बीजेपी नेताओं का किसान लगातार विरोध कर रहे हैं। ऐसे में देखना होगा कि इस प्रस्ताव का क्या असर दिखाई देता है।

  • Share