संपत्ति की रजिस्ट्री को लेकर नया नियम, पहले करना होगा ये काम

By Arvind Kumar - September 16, 2020 1:09 pm

फतेहाबाद। (साहिल रुखाया) प्रदेश सरकार ने रजिस्ट्री घोटले के बाद एक नया सॉफ्टवेयर बनाया है ताकि किसी प्रकार की गड़बड़ी ना हो। यह नया सॉफ्टवेयर नगरप रिषद व नगरपालिका के लिए कारगर साबित हो गया है।
अब जो भी शहरवासी अपने मकान या जमीन की रजिस्ट्री करवाने के लिए आएगा उसे पहले डोर-टू-डोर कूड़ा उठाने का चार्ज अदा करना होगा। अगर वो यह अदा नहीं करता है तो उसकी रजिस्ट्री नहीं होगी। ऐसे में नप अधिकारियों को इसका फायदा सबसे अधिक हो रहा है।

New rule for Property registry in Haryana | Registry Software

जिला के डीसी डॉक्टर, नरहरि सिंह बांगड़ ने बताया कि फतेहाबाद जिले के शहरों में 2017 में डोर-टू-डोर कूड़ा उठाने का काम शुरू किया गया था। इस कूड़े को उठाने के लिए नगरपरिषद की तरफ से एक राशि तय कर दी गई। यह राशि शहरवासियों को प्रति महीने देनी थी।

New rule for Property registry in Haryana | Registry Software

फतेहाबाद अब कुछ लोग तो यह चार्ज भर रहे हैं। यह राशि भरने वालों की संख्या मात्र 20 फीसद ही है। ऐसे में अब उम्मीद है कि इस नए सॉफ्टवेयर से अब नगरपरिषद व नगरपालिका को रिकवरी होनी शुरू हो जाएगी।

सफाई ब्रांच से लेनी होगी एनओसी

रजिस्ट्री करवाने के लिए शहरवासियों को सबसे पहले सफाई ब्रांच से एनओसी लेनी होगी। अगर उसका चार्ज बकाया पड़ा है तो एनओसी नहीं दी जाएगी और भर दिया तो उसे एनओसी दे दी जाएगी। वहीं प्रॉपर्टी आइडी डालने के साथ ही पूरा रिकॉर्ड भी सामने आ जाएगा।

---PTC NEWS---

adv-img
adv-img