ममता बोलीं- 15-20 पार्षदों के पार्टी छोड़ने से नहीं पड़ता फर्क, टीएमसी मजबूत

Mamata Banerjee 2
ममता बोलीं- 15-20 पार्षदों के पार्टी छोड़ने से नहीं पड़ता फर्क, टीएमसी मजबूत

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में लगातार घट रहे टीएमसी के कुनबे और टीएमसी नेताओं के बीजेपी में शामिल होने को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि टीएमसी कमजोर नहीं है। उन्होंने कहा कि मुझे परवाह नहीं है अगर 15-20 पार्षद पैसा स्वीकार करने के बाद पार्टी छोड़ देते हैं। ममता ने आगे कहा कि अगर पार्टी के विधायक चाहते हैं तो वे छोड़ सकते हैं। हम अपनी पार्टी में चोर नहीं चाहते हैं। अगर एक व्यक्ति छोड़ता है तो वो 500 और तैयार करेंगी। ममता बनर्जी मंगलवार को नज़रुल मंच में पार्षदों को संबोधित करते हुए बोल रहीं थी।

Mamata Banerjee 1
ममता बोलीं- 15-20 पार्षदों के पार्टी छोड़ने से नहीं पड़ता फर्क, टीएमसी मजबूत

आपको बता दें कि सोमवार को बीजेपी ने टीएमसी के कुनबे में सेंधमारी करते हुए एक और विधायक को अपने पाले में कर दिया। साथ ही पश्चिम बंगाल में टीएमसी के 12 पार्षद भी पार्टी में शामिल करवाए। बीजेपी ने इससे पहले भी टीएमसी के कई विधायकों को पार्टी में शामिल करवाया है। 28 मई को पश्चिम बंगाल से तीन विधायक बीजेपी में शामिल हुए थे। इसके अलावा माकपा के भी एक नेता ने बीजेपी का दामन थामा था।

BJP-1
ममता बोलीं- 15-20 पार्षदों के पार्टी छोड़ने से नहीं पड़ता फर्क, टीएमसी मजबूत

यह भी पढ़ें : वन नेशन, वन इलेक्शन के मुद्दे पर पीएम मोदी ने 19 को बुलाई सर्वदलीय बैठक

ऐसे में ममता ने यह बयान देकर अपनी पार्टी को मजबूत करने की कोशिश की है। लेकिन देखना होगा कि ममता अपने कुनबे को एकजुट रख पाएगी या बीजेपी इसमें लगातार सेंधमारी करती रहेगी।

—-PTC NEWS—

पंजाब-हरियाणा व देश दुनिया की खबरें देखने के लिए सब्सक्राइब करें हमारा यू ट्यूब चैनल