प्रमुख खबरें

वैक्सीन लेने के बावजूद अनिल विज कैसे हुए कोरोना संक्रमित? यहां जाने वजह

By Arvind Kumar -- December 05, 2020 3:12 pm -- Updated:Feb 15, 2021

चंडीगढ़। भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सिन के ट्रायल में शामिल हो चुके हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री के कोरोना संक्रमित होने से कई सवाल उठ खड़े हुए हैं। लोगों में आशंका है कि वैक्सीन कारगर है या नहीं है? लेकिन कंपनी ने इसपर अपनी स्थिति स्पष्ट की है और लोगों की आशंकाओं को दूर किया है।
Covaxin clinical trials
कंपनी ने बयान जारी कर कहा कि कोवैक्सिन का ट्रायल दो डोज पर आधारित है। पहली डोज के 28 दिन बाद दूसरी डोज दी जाती है और दूसरी डोज देने के 14 दिन बाद यह पता चल पाता है कि वैक्सीन कितनी प्रभावी है। इस वैक्सीन को इस तरीके से बनाया गया है कि यह दो डोज लेने के बाद ही प्रभावी होती है।

Covaxin clinical trials वैक्सीन लेने के बावजूद अनिल विज कैसे हुए कोरोना संक्रमित? यहां जाने वजह

यह भी पढ़ें- आंदोलन में शामिल एक और किसान की मौत

यह भी पढ़ें- कंगना और दिलजीत दोसांझ के बीच ट्विटर पर छिड़ी तीखी ‘जंग’

Covaxin clinical trialsबता दें कि कोवैक्सिन को फेज 3 में 26,000 लोगों पर ट्रायल किया जाएगा। अगर ट्रायल में सबकुछ ठीक रहा तो कंपनी इसका उत्पादन शुरू कर इसे बाजार में उतार देगी। हालांकि अभी ट्रायल के नतीजों के लिए कुछ इंतजार करना होगा।

गौर हो कि कोविड-19 की वैक्सीन के ट्रायल में शामिल होने वाले हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इस बात की जानकारी स्वास्थ्य मंत्री ने खुद ट्वीट कर दी है। उन्होंने बताया कि वे अंबाला कैंट के सिविल अस्पताल में भर्ती हैं।
साथ ही अनिल विज ने पिछले दिनों उनके संपर्क में आए लोगों से कोरोना टेस्ट करवाने का आग्रह किया है। बता दें कि बीते दिनों बाबा रामदेव भी अनिल विज से मिल चुके हैं। इसके साथ ही कई अन्य नेताओं ने भी अनिल विज से मुलाकात की है।

  • Share