सीएम खट्टर का निर्देश, कालाबाजारी पर अंकुश लगाने के लिए टीमें गठित करें डीसी

सीएम खट्टर का निर्देश, कालाबाजारी पर अंकुश लगाने के लिए टीमें गठित करें डीसी

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने निर्देश दिए कि जिला उपायुक्त दवाओं व आवश्यक वस्तुओं की कालाबाजारी रोकने के लिए एक टीम का गठन करें। इसके अलावा, एंबुलेंस के लिए प्रति किलोमीटर की दर से रेट तथा अस्पतालों में बेड और दवाइयों के रेट भी तय किए जाएं। उन्होंने कहा कि लोगों को जागरूक करने के लिए और उपभोक्ता का शोषण न हो इसके लिए आवश्यक वस्तुओं की रेट लिस्ट दुकानों के बाहर प्रदर्शित की जाए।
इसके अलावा,आमजन की शिकायतों को दूर करने के लिए चौबीस घंटे की हेल्पलाइन सुविधा शुरू की गई है। साथ ही, राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। जन प्रतिनिधियों को भी ऐसे सभी मुद्दों को सुनने और हल करने के लिए कहा गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान में राज्य का ऑक्सीजन कोटा 257 मीट्रिक टन है और केंद्र सरकार से इस कोटा को बढ़ाकर 300 मीट्रिक टन करने का अनुरोध किया गया है। तदानुसार पूरे राज्य में निर्बाध ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है। उन्होंने कहा कि उपायुक्त यह सुनिश्चित करें कि ऑक्सीजन टैंकर की अनलोडिंग जल्द से जल्द हो ताकि अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति श्रृंखला बरकरार रहे।

Covid-19 third wave 'inevitable' but not clear when it will occur: Govt's scientific advisorयह भी पढ़ें- DRDO की तकनीक से दिल्ली व हरियाणा में तैयार होगी ऑक्सीजन

यह भी पढ़ें- हिमाचल में 16 मई तक लगा कोरोना कर्फ्यू


मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि कोविड-19 रोगियों और सह-रुग्णता से पीडि़त उन लोगों को जिन्हें घर में ऑक्सीजन की आवश्यकता है, उन्हें ऑक्सीजन आपूर्ति प्रदान करने के लिए एक प्रणाली तैयार की गई है। प्रणाली के अनुसार इन रोगियों के पंजीकरण के लिए एक पोर्टल विकसित किया गया है। साथ ही, ऐसे रोगियों के घर पर ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए विभिन्न सामाजिक संगठनों को भी इस पोर्टल पर पंजीकृत किया जाएगा।