सीएम खट्टर बोले- हरियाणा में जल्द चालू होंगे पांच ऑक्सीजन प्लांट

By Arvind Kumar - May 02, 2021 6:05 pm
हरियाणा के मुख्यमत्री मनोहर लाल ने कहा कि राज्य में पांच ऑक्सीजन प्लांट शीघ्र चालू किए जाएंगे। इनमें सबसे पहले करनाल, पंचकुला, हिसार, सिरसा और फरीदाबाद के ऑक्सीजन प्लांटों का सामान आ गया है। सोनीपत जिला के प्रोफेसर जोगिन्द्र सिंह को निर्देश दिए गए हैं कि वे सोनीपत की तर्ज पर अल्प अवधि में दिन-रात मेहनत कर सभी प्लांटों को चालू करें। इन ऑक्सीजन प्लांटों को चालू करने में उन्हें समय से पहले सभी सामान जिला प्रशासन द्वारा तैयार मिलेगा जिसके लिए जिला उपायुक्तों को निर्देश दे दिए गए हैं।
सीएम खट्टर बोले- हरियाणा में जल्द चालू होंगे पांच ऑक्सीजन प्लांट

दरअसल मुख्यमंत्री सोनीपत जिला के गोहाना स्थित बीपीएस मेडिकल कॉलेज में चिकित्सकों तथा अधिकारियों की कोरोना से बचाव के लिए की गई तैयारियों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि बीपीएस मेडिकल कॉलेज खानपुर में 100 डॉक्टर डिग्री इंटरनशिप के लिए तैयार है इन सभी डॉक्टरों को प्रत्येक जिला में जहां पर भी जरूरत होगी, तुरंत वहां भिजवाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन का प्रतिदिन ऑडिट करवाया जाए ताकि कोरोना मरीज को ऑक्सीजन भरपूर मात्रा में मिलती रहे। उन्होंने कहा कि सरकारी तंत्र के साथ-साथ स्वैच्छिक संस्थाओं को भी आगे आना चाहिए ताकि होम-आईसोलेशन मरीजों को उसके घर द्वार पर ही आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध हो सकें।
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि लॉकडाउन एवं कंटेनमेंट जोन निर्धारित होने की वजह से खाद्य सामग्रियों के आवागमन में दिक्कत नही होनी चाहिए। कोई व्यापारी इस दौर में कालाबाजारी न कर सके, इसके लिए खाद्य एवं आपूर्ति विभाग वस्तुओं के रेट निर्धारित कर सभी खाद्य सामग्री दुकानों के सामने रेट लिस्ट लगवाना सुनिश्चित करें।

यह भी पढ़ें- 6 मिनट के वॉक टेस्ट से लग जाएगा आपके स्वास्थ्य का पता, जानें कैसे घर पर करे स्वास्थ्य की जांच

यह भी पढ़ें- सोसाइटियों में Small Covid19 आइसोलेशन सेंटर बना सकेंगी RWA

उन्होंने कहा कि प्रत्येक अस्पताल में एम्बुलेंसों की रेट लिस्ट लगवाई जाए ताकि लोगों को भुगतान में किसी प्रकार की दिक्कत न आए। इसके साथ प्रत्येक अस्पताल में ऑक्सीजन बेड, वेंटीलेटर बेड, सामान्य बेड के रेट लिस्ट की भी सूची निर्धारित करवाकर सभी अस्पतालों में लगवाएं जिससे अस्पतालों द्वारा जनता का शोषण ना किया जा सके। उन्होंने कहा कि कोरोना की चेन को तोडऩे के लिए सरकार कोई भी सख्त कदम उठाने में परहेज नहीं करेगी। कोरोना से संक्रमित प्रत्येक मरीज की पूरी तरह से निगरानी करके उसका ईलाज किया जाएगा।
adv-img
adv-img