जाट आंदोलन के दौरान तोड़फोड़ करने वाले आरोपियों के बीच मारपीट

Fight between accused who sabotaged during Jat movement
जाट आंदोलन के दौरान तोड़फोड़ करने वाले आरोपियों के बीच मारपीट

पंचकूला (उमंग श्योराण)। जाट आंदोलन के दौरान पूर्व वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के घर तोड़फोड़ व आगजनी मामले में सीबीआई की विशेष अदालत में सुनवाई के लिए आये आरोपियों के बीच मारपीट का मामला सामने आया है। यह सारा घटनाक्रम सुनवाई के बाद कोर्ट परिसर के बाहर आने के बाद हुआ। इस झगड़े में राजेश रूखी के सिर पर पत्थर मारा गया जिसके चलते राजेश सुखी को गंभीर चोट आई।

Fight between accused who sabotaged during Jat movement
जाट आंदोलन के दौरान तोड़फोड़ करने वाले आरोपियों के बीच मारपीट

जानकारी के मुताबिक कुछ समय पहले भी इन दोनों गुटों में कहासुनी और झगड़ा हो चुका है। घटना की सूचना मिलने पर कोर्ट के वकील और भारी पुलिस बल मौके पर पहुंची। फिलहाल पुलिस ने पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है।

Fight between accused who sabotaged during Jat movement
जाट आंदोलन के दौरान तोड़फोड़ करने वाले आरोपियों के बीच मारपीट

इस मारपीट में घायल हुए राजेश रूखी ने बताया कि वह कोर्ट की सुनवाई के बाद जैसे ही बाहर आए तो अशोक बल्हारा और उनके साथ मौजूद कुछ लोगों द्वारा उनके साथ गाली-गलौच की गई और पत्थर मारकर उसका सिर फोड़ दिया। जिसके चलते उसे गंभीर चोट आई है। जब इसकी सूचना पुलिस को दी गई तो पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घायल राजेश को उपचार के लिए भेज दिया और मामले की जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: चंडीगढ़: कलयुगी मां का कारनामा, मासूम को बेड बॉक्स में डाल हुई फरार

—PTC NEWS—