‘हरियाणावी को नौकरी में प्राथमिकता देगी सरकार, परीक्षा के लिए नहीं जाना होगा दूर’

CM Manohar Lal 1
हरियाणावी को नौकरी में प्राथमिकता देगी सरकार, परीक्षा के लिए नहीं जाना होगा दूर

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मंगलवार को चंडीगढ़ में आयोजित प्रेस वार्ता में आर्थिक मंदी को चर्चाओं पर अपनी राय रखी। उन्होंने कहा कि कुछ वर्षों बाद ऐसी स्थिति होती है, देश विश्व व्यापी मंदी के दौर से गुजर रहे हैं। मनोहर लाल ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा इसे लेकर पहल की गई है। केंद्र सरकार ने मंदी से निपटने के लिए बैंकों का विलय किया, बैंकों में लिक्विडिटी बढ़ाने के लिए 1.43 लाख करोड़ रुपए बढ़ाए गए, बांड जारी करने के लिए बैंकों को 70 हजार करोड़ रुपए उपलब्ध करवाए गए, ऋण सस्ती दरों पर मिले, इसके लिए हाउसिंग लोन-खुदरा लोन, व्हीकल लोन में दरें कम की गईं।

CM Manohar Lal 3
हरियाणावी को नौकरी में प्राथमिकता देगी सरकार, परीक्षा के लिए नहीं जाना होगा दूर

वहीं सरकार ने स्टार्ट अप्स को कुछ कर प्रावधान से मुक्त किया है, EMI दर के लिए इंटरस्ट रेट कम किए गए, इसके अलावा 19 सितम्बर को 34 प्रतिशत कारपोरेट रेट को कम करते हुए 22 प्रतिशत तक लाया गया । मुख्यमंत्री ने कहा कि निवेश की संभावनाओं को बढ़ाने के लिए हम तैयार हैं, नई कम्पनियों के लिए कारपोरेट टैक्स 15 प्रतिशत किया गया। इसके पीछे उत्पादन, आपूर्ति और निर्यात को बेहतर करने की मंशा है।

यह पढ़ें : परीक्षा क्लर्क के पद की या परीक्षार्थियों की जान की ?

वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा GDP 2018-19 8.2 के साथ बेहतर स्थिति में है। उन्होंने कहा कि हरियाणा इज ऑफ डूइंग बिजनेस में देश में तीसरे और उत्तर भारत में पहले स्थान पर है। 80 हजार करोड़ रुपए के निवेश हरियाणा में हो चुके हैं। प्रत्येक MOU के साथ रिलेशन मैनेजर काम कर रहे हैं।

CM Manohar Lal 12
हरियाणावी को नौकरी में प्राथमिकता देगी सरकार, परीक्षा के लिए नहीं जाना होगा दूर

मुख्यमंत्री ने कहा कि रोजगार क्षेत्र में सरकारी क्षेत्र में 73 हजार नौकरी, नए स्थापित 58 हजार उद्योगों के माध्यम से 4 लाख युवाओं को रोजगार दिया गया है। युवाओं को रोजगार लेने में आ रही कठिनाइयों को देखते हुए हरियाणा डोमिसाइल को जाएगी प्राथमिकता दी जाएगी। वहीं निकटतम स्थानों पर परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र देने पर भी कर्मचारी चयन आयोग से बात की जाएगी। इसके अलावा मैरिट पर नौकरी देने की प्रक्रिया में नीचे के स्तर पर छंटनी HTET की तर्ज पर एलिजिबिलिटी टेस्ट रखा जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को रोजगार मिले, इसके लिए भाजपा सरकार प्रावधान करेगी। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कहा कि मानव सम्पदा विभाग का गठन किया जाएगा।

यह भी पढ़ेंक्लर्क भर्ती पर बोले पूर्व मंत्री कैप्टन अजय यादव, परीक्षा से पहले ही लीक हुआ पेपर

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि हम अन्नदाता की हर समस्या के साथ खड़े हैं। हरियाणा एक ऐसा राज्य है जिसने सरसों व बाजरा की फसलों का एक-एक दाना खरीदा है। हमने यह सुनिश्चित किया कि किसानों को उनकी फसलों का पूरा दाम मिले। समाज में जो अच्छी चीजें की जा सकती हैं उन्हें हम करते आये हैं और करते रहेंगे क्योंकि हमें समाज को आगे लेकर जाना है। समाज को आगे लेकर जाने में जो भी कठिनाइयां आएंगी उन्हें हम दूर करेंगे।

 —PTC NEWS—