हरियाणा

सोहना एलिवेटेड फ्लाईओवर निर्माण में इंजीनियर्स से हुई बड़ी चूक, पहले ही दिन लोगों ने निकाला गुस्सा

By Vinod Kumar -- July 12, 2022 3:15 pm

गुरूग्राम में सोहना एलिवेटेड फ्लाईओवर पर ट्रायल रन के पहले ही दिन भारी जाम से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा है। लोगों में इसे लेकर खासी नाराजगी भी देखी जा रही है। एलिवेटिड फ्लाईओवर पर एंट्री और एक्जिट प्वाइंट नहीं होने से स्थानीय लोगों में खासा रोष है।

लोगों का आरोप है कि बिना तैयारियों के ही जल्दबाजी में इस फ्लाइओवर के ट्रायल रन को शुरू कर दिया गया है। राजीव चैक से फ्लाइओवर लेने वाली एक महिला को 8 किलोमीटर के बाद जाकर एग्जिट पॉइंट मिल पाया, जिससे खासी परेशानी हुई है। करीब 25 किलोमीटर लंबे इस राष्ट्रीय राजमार्ग को 2 हजार करोड़ की लागत से तैयार किया गया है।

इस एलिवेटिड फ्लाईओवर के दोनों तरफ यानी सुभाष चैक से लेकर बादशाहपुर तक सोसाइटी में हजारों लोग रहते हैं। लोगों का कहना है कि इससे उन्हें फिलहाल परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

बता दें कि राष्ट्रीय राजमार्ग 248-A गुरुग्राम-सोहना केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी के ट्वीट के बाद ट्रायल रन के लिए खोल दिया गया था। 25 किलोमीटर लंबे इस बेहतरीन और दूरगामी राजमार्ग परियोजना के शुरू होने की लंबे समय से प्रतीक्षा की जा रही थी। इसका विधिवत उदघाटन आगामी 17 जुलाई को किया जाएगा।

इस एलिवेटेड फ्लाईओवर को बनाने का काम 2018 में शुरू किया गया था, लेकिन कोरोना महामारी के चलते यह प्रोजेक्ट लेट होता चला गया। बता दें की 25 किलोमीटर लंबे गुरुग्राम सोहना राष्ट्रीय राजमार्ग पर बने 7 किलोमीटर के कुल एलिवेटिड सेक्शन के साथ 6 लेन का एक्सेस कंट्रोल कॉरिडोर भी विकसित किया गया है।

  • Share