Wed, Feb 1, 2023
Whatsapp

13 दिन में भारत के सामने पस्त हुआ था 'आतंकीस्तान', 93 हजार पाकिस्तानी सैनिकों ने किया था सरेंडर

Written by  Vinod Kumar -- December 16th 2022 01:01 PM
13 दिन में भारत के सामने पस्त हुआ था 'आतंकीस्तान', 93 हजार पाकिस्तानी सैनिकों ने किया था सरेंडर

13 दिन में भारत के सामने पस्त हुआ था 'आतंकीस्तान', 93 हजार पाकिस्तानी सैनिकों ने किया था सरेंडर

भारत ने 1971 के युद्ध में आज के ही दिन पाकिस्तान को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था। 16 दिसंबर को भारत युद्ध में मिली जीत को विजय दिवस के रूप में मनाता है। भारत को इस युद्ध में मिली जीत के कारण पूर्वी पाकिस्तान बांग्लादेश के नाम से अलग राष्ट्र के तौर पर विश्व के मानचित्र पर उभर कर सामने आया था।

1971 में पाकिस्तानी सेना ने पूर्वी पाकिस्तान में बंगाली समुदाय पर अत्याचार शुरू कर दिए। बंगाली भाषा बोलने वालों की हत्या, महिलाओं से रेप करना शुरू कर दिए। पाकिस्तान की सेना ने बच्चों, बुजुर्गों, महिलाओं का बड़े स्तर पर कत्लेआम शुरू कर दिया। इसके बाद बड़ी संख्या में प्रवासी बांग्लादेशी भारत में दाखिल होने लगे थे। 


इसी बीच पाकिस्तान ने भारत पर हमला कर दिया। भारत ने भी पाकिस्तान के खिलाफ 3 दिसंबर को युद्ध की घोषणा कर दी। ये युद्ध सिर्फ 13 दिनों तक चला। युद्ध आधिकारिक तौर पर 16 दिसंबर को समाप्त हुआ। 16 दिसंबर, 1971 को पूर्वी पाकिस्तानी में सेना के प्रमुख जनरल नियाजी ने कुल 93,000 सैनिकों के साथ भारतीय सेना के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। इसी दिन को भारत विजय दिवस के रूप में मनाता है।

युद्ध के बाद पूर्वी पाकिस्तान स्वतंत्र हो गया। आज यही क्षेत्र स्वतंत्र देश बांग्लादेश बन गया है। आज के ही दिन आत्मसमर्पण के दस्तावेज पर दस्तखत करने के बाद नियाजी ने अपनी रिवाल्वर जनरल अरोड़ा के हवाले कर दी। नियाजी की आंखों में आंसू थे। रिपोर्ट के मुताबिक, स्थानीय लोग नियाजी की हत्या करने की मांग कर रहे थे। लेकिन भारतीय सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने नियाजी को सुरक्षित वापस भेजा। 

इस युद्ध के रणनीतिकार तत्कालीन भारतीय चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ सैम मानेकशॉ थे। उन्होंने देखरेख में पूरे युद्ध की रणनीति बनी थी। सैम मानेकशॉ की रणनीति के सामने पाकिस्तान ने सिर्फ 13 दिन में घुटने टेक दिए थे। सेम मानेकशॉ ने भारतीय सैनिकों से कहा था कि आपके साथ हम दूसरी चाय लाहौर में पीएंगे।


- PTC NEWS

adv-img

Top News view more...

Latest News view more...