मिल्खा सिंह को कैसे मिला फ्लाइंग सिख का नाम, जानें पूरी कहानी

By Arvind Kumar - June 19, 2021 11:06 am

नई दिल्ली। प्रख्यात धावक मिल्खा सिंह का शुक्रवार देर रात निधन हो गया। उनके निधन से खेल जगत में शोक की लहर है। मिल्खा सिंह को फ्लाइंग सिख के नाम से भी जाना जाता था। उनका ये नाम कैसे पड़ा आइए इसके पीछे की कहानी जानते हैं।

दरअसल उन्हें यह नाम पाकिस्तान के दूसरे राष्ट्रपति अयूब खान ने दिया था। मिल्खा पाकिस्तान में आयोजित इंटरनेशनल एथलीट कंपिटिशन में हिस्सा लेने गए हुए थे। उन्होंने उस समय पाकिस्तान के तेज धावक अब्दुल खालिक को हरा दिया था।

यह भी पढ़ें- मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने की 1100 करोड़ रुपये से अधिक के राहत पैकेज की घोषणा

यह भी पढ़ें- सीबीएसई 12वीं बोर्ड के 31 जुलाई तक घोषित होंगे नतीजे


मिल्खा सिंह का प्रदर्शन देखने के बाद तत्कालीन राष्ट्रपति फील्ड मार्शल अयूब खान ने मिल्खा सिंह को फ्लाइंग सिख का खिताब दिया और कहा कि आज तुम दौड़े नहीं उड़े हो। इसलिए हम तुम्हें फ्लाइंग सिख का खिताब देते हैं।

हालांकि पाकिस्तान में आयोजित जिस रेस के बाद उन्हें यह नाम मिला उसमें वे हिस्सा नहीं लेना चाहते थे। मिल्खा सिंह के मन में बंटवारे को लेकर काफी दर्द था और इसी वजह से वो पाकिस्तान नहीं जाना चाहते थे। देश के तत्कालिन प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के समझाने पर वे पाकिस्तान गए और अब्दुल खालिक को हराया।

adv-img
adv-img