राजनीति

सिंघु बॉर्डर पर आज संयुक्त किसान मोर्चा की अहम बैठक, आगे की रणनीति पर होगी चर्चा

By Vinod Kumar -- December 04, 2021 11:05 am -- Updated:December 04, 2021 12:14 pm

नई दिल्ली: आज सिंघु बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक हो रही है। इस बैठक में आंदोलन की आगे की रणनीति तय की जाएगी। सिंघु बॉर्डर पर कुछ ही देर में किसानों की मीटिंग शुरू होने वाली है। इससे पहले पुलिस ने सुरक्षा बढ़ा दी है।

किसान आंदोलन खत्म होगा या नहीं, इसको लेकर आज मीटिंग में फैसला लिया जाएगा। सिंघु बॉर्डर की ओर जाने वाली और उस ओर से निकलने वाली सभी सड़कों पर बैरिकैडिंग कर दी है। आस-पास बड़ी संख्या में दिल्ली पुलिस के जवानों की तैनाती की गई गई है। इस बीच पंजाब के अधिकांश किसान संगठन आंदोलन खत्म करने पक्ष में हैं। उनका कहना है कि जिस मांग को लेकर वे यहां आए थे, वह पूरी हो चुकी है। वहीं कुछ नेता MSP पर कानूनी गारंटी, किसानों पर दर्ज केस वापस लेने और मृतक किसान परिवारों को मुआवजा देने की मांग पर अड़े हुए हैं। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि भारत सरकार किसानों की मांगों पर बातचीत करे।

जिन कृषि सुधार कानूनों के विरोध में किसान आंदोलन शुरू हुआ था केंद्र सरकार ने उन्हें वापस ले लिया है। लोकसभा और राज्यसभा में पास होने के बाद इनकी वापसी पर राष्ट्रपति की मुहर भी लग चुकी है। इसकी घोषणा करते वक्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSP को लेकर कमेटी बनाने की बात भी कही थी, जिसके बाद किसान नेताओं से संपर्क कर 5 नाम भेजने को कहा था, जिन्हें कमेटी में शामिल किया जा सके।

सिंघु बॉर्डर पर होने वाली मीटिंग में MSP के लिए सरकार को भेजे जाने वाले 5 किसान नेताओं के नाम पर भी चर्चा होगी। हालांकि किसान नेताओं का कहना है कि सरकार ने उन्हें कोई औपचारिक संदेश नहीं भेजा है। मीटिंग में इस बात पर भी फैसला होगा कि नाम भेजे जाएंगे या फिर सरकार से औपचारिक संदेश का इंतजार किया जाएगा।

  • Share