हरियाणा

डिप्टी सीएम के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर तहसीलदार के ड्राइवर को पद से हटाया

By Arvind Kumar -- December 19, 2020 3:13 pm -- Updated:December 19, 2020 3:50 pm

चंडीगढ़। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर हांसी तहसीलदार के ड्राइवर को पद से हटा दिया गया है। आउटसोर्स पर तैनात ड्राइवर द्वारा डिप्टी सीएम के खिलाफ डाली गई पोस्ट को अपराध तथा नियमों के विरुद्ध माना गया है, जिसके चलते ड्राइवर को पदभार से मुक्त करने का आदेश जारी किया गया है। एसडीएम की तरफ से ये कार्रवाई की गई है।

Social Media Post Against Deputy CM डिप्टी सीएम के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर तहसीलदार के ड्राइवर को पद से हटाया

ये किया था पोस्ट
पन्नालाल फेसबुक पर सोनू बूरा के नाम से आईडी चलाता है। सूत्रों के मुताबिक ड्राइवर पन्नालाल ने दुष्यंत चौटाला के कोरोना पॉजिटिव होने के संबंधित एक पोस्ट को अपने शेयर किया था। इसके अलावा जेजेपी-इनोलो के सत्ता में आने के किसानों पर लाठीचार्ज किए जाने के संबंधित पोस्ट भी सोशल मीडिया पर की थी। हालांकि पन्नालाल का स्पष्ट कहना है कि ये पोस्ट उसके द्वारा नहीं किए गए हैं व कुछ समय पहले उसकी आईडी हैक हो गई थी।

Social Media Post Against Deputy CM डिप्टी सीएम के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर तहसीलदार के ड्राइवर को पद से हटाया

प्राप्त जानकारी के मुताबिक हांसी तहसील में पन्नालाल आउटसोर्सिंग पॉलिसी के तहत ड्राइवर के पद पर कार्यरत था। एसडीएम के पास किसी ने मोबाइल पर पन्नालाल के फेसबुक पोस्ट की स्क्रीनशॉट भेज दिए थे। सूत्रों के मुताबिक एसडीएम कार्यालय की तरफ से पन्नालाल को नोटिस देकर जवाब मांगने के बजाए सीधे कार्रवाई कर दी। पन्नालाल का कहना है कि उसकी फेसबुक से किसने पोस्ट किया ये उसे नहीं पता है, जबकि वह हमेशा सरकारी आदेशों की पालना करता रहा है।

Social Media Post Against Deputy CM डिप्टी सीएम के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर तहसीलदार के ड्राइवर को पद से हटाया

यह भी पढ़ें- सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा फिर पहुंचे आंदोलनरत किसानों के बीच, दिया पूर्ण समर्थन

यह भी पढ़ें- मेदांता जाने से इंकार कर रहे थे अनिल विज, भाई के मनाने पर हुए तैयार

Social Media Post Against Deputy CM डिप्टी सीएम के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर तहसीलदार के ड्राइवर को पद से हटाया

यह भी पढ़ें- कुमारी सैलजा ने सीएम खट्टर को लिखा पत्र, 212 गांवों से धारा 7ए रद्द करने की मांग

यह भी पढ़ें- डिप्टी सीएम की अधिकारियों को नसीहत, मनरेगा के तहत आवंटित धन को दबा कर ना बैठे

विपक्ष ने बोला हमला 
युवा कांग्रेस के जिला प्रधान आनंद जाखड़ ने कहा कि सरकार तानाशाही तरीके से काम कर रही है और जनता की अभिव्यक्ति की आजादी को दबाने का काम कर रही है। उन्होंने सरकार के इस कदम की निंदा करते हुए ड्राइवर को बर्खास्त करने के आदेश निरस्त करने की मांग की है।

वहीं, आम आदमी पार्टी के नेता मनोज राठी ने कहा कि सोशल मीडिया प्रत्येक नागरिक की अभिव्यक्ति का जरिया है और इस प्रकार से सरकार नागरिकों को डराने का काम कर रही है जिससे सरकार के खिलाफ माहौल ना बने। उन्होंने कहा कि प्रत्येक सरकारी कर्मचारी की निजी जिंदगी भी होती है और उसे अपनी अभिव्यक्ति की आजादी है।

  • Share