कानून व्यवस्था

करनाल से पकड़े गए आतंकियों को 10 दिन का रिमांड, पूछताछ में खुलासा: अंबाला में प्लांट किए थे हैंड ग्रेनेड और IED

By Vinod Kumar -- May 06, 2022 11:14 am

हरियाणा के करनाल से पंजाब पुलिस ने कल बब्बर खालसा से जुड़े चार आतंकियों को गिरफ्तार किया था। कोर्ट ने इन आंतकियों को 10 दिन के रिमांड पर भेज दिया है। पंजाब, दिल्ली, चंडीगढ़ की टीमें लगातार इनसे पूछताछ कर रही हैं। आज शाम तक तेलंगाना पहुंच सकती है। आतंकियों को आज ही विस्फोटक सामग्री को तेलंगाना पहुंचाना था।

आतंकियों से पूछताछ में कई बड़े खुलासे हुए हैं। पूछताछ में आतंकियों ने खुलासा किया है कि उन्होंने ही महर्षि मारकंडेश्वर विश्वविद्यालय और दिल्ली पब्लिक स्कूल के पास मिले 3 जिन्दा हैंड ग्रेनेड और आइइडी (इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) को रखा था।

आतंकियों ने पूछताछ में माना कि उन्होंने कुछ समय पहले विस्फोटक सामग्री और आइइडी (इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) कई जगह ट्रांसप्लांट किए थे। 19 मार्च को महर्षि मारकंडेश्वर विश्वविद्यालय और दिल्ली पब्लिक स्कूल के पास मिले 3 जिन्दा हैंड ग्रेनेड और आइइडी (इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) को उन्होंने ही रखा था।

होली के दिन अंबाला-चंडीगढ़ नेशनल हाइवे पर निर्माणाधीन भवन में लगे मजदूरों ने इन हैंड ग्रेनेड और विस्फोटक सामग्री को एक खाली मैदान में देखा था। इसके बाद इसकी जानकारी पुलिस को दी गई थी। इसी मामले में इंटेलिजेंस ब्यूरो और केंद्रीय जांच एजेंसियां जांच में जुटी थी। बताया जा रहा है कि उन्हीं की इनपुट पर करनाल से यह आतंकी पकड़े गए हैं।

इसके साथ ही आतंकियों ने ये भी माना है कि उन्होंने कुछ समय पहले विस्फोटक सामग्री और आइइडी कई जगह ट्रांसप्लांट किए थे। इसके साथ ही पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले पंजाब के गुरदासपुर सेक्टर के पंजग्रेन इलाके में पाकिस्तान से ड्रोन के जरिए आरडीएक्स की तस्करी और बम धमाके कराने की बड़ी साजिश का खुलासा किया था। BSF ने करीब पांच किलो RDX और डेटोनेटर सहित बड़ी मात्रा में बम बनाने का सामान बरामद किया था। आशंका है कि इस मामले से भी अंबाला में मिली विस्फोटक सामग्री के तार जुड़े हो सकते हैं।

  • Share