adv-img
अपराध/हादसा

फर्जी गैंगरेप की कहानी रचने वाली महिला अस्पताल से पहुंची सीधी जेल, प्रापर्टी पर कब्जे के लिए रची थी झूठी कहानी

By Vinod Kumar -- October 23rd 2022 04:44 PM

गाजियाबाद पुलिस ने फर्जी गैंगरेप की कहानी रचने वाली महिला पिंकी को अस्पताल से छुट्टी मिलते ही गिरफ्तार कर लिया। आरोपी महिला पेशे से नर्स है। महिला का इलाज GTB हॉस्पिटल चल रहा था। मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक महिला को कोई गंभीर चोट नहीं है।

दरअसल 36 साल की महिला पिंकी दिल्ली में रहती है। उसका कुछ लोगों के साथ संपत्ति विवाद चल रहा था। इसी संपत्ति पर कब्जा पाने के लिए महिला ने गैंगरेप की झूठी कहानी रची, ताकि दूसरे पक्ष के लोगों को जेल भेज सके और प्रॉपर्टी पर कब्जा पा सके। महिला ने गैंगरेप की ऐसी कहानी रची की यूपी समेत पूरा हिंदोस्तान हिल गया। इस फर्जी कहानी में उसके दोस्तों ने भी उसका साथ दिया था। महिला के दोस्तों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।

दरअसल गाजियाबाद के नंदग्राम थाना क्षेत्र के आश्रम रोड का है। यहां 18 अक्टूबर को साढ़े 3 बजे सड़क किनारे एक राहगीर को महिला बोरे में बंधी हुई मिली थी। मामले की सूचना आनन-फानन में पुलिस को दी गई। पूछताछ में महिला ने बताया कि 5 लोगों ने उससे रेप किया है और प्राइवेट पार्ट में रॉड घुसाने के बाद हाथ-पैर बांधकर बोरे में डालकर फेंक दिया।

महिला के आरोपों से सनसनी मच गई। पुलिस फौरन हरकत में आई और जांच शुरू कर दी। महिला ने इस मामले में 5 लोगों के शामिल होने की बात कही थी, लेकिन जांच में कहानी कुछ और ही निकली। महिला ने जिन पांच लोगों के नाम पुलिस को बताए थे उनके साथ महिला का पहले से ही संपत्ति विवाद चल रहा था। संपत्ति पर कब्जा करने के लिए ये कहानी रची गई थी।

पुलिस के मुताबिक इस मामले में रेप को बढ़ा चढ़ा कर दिखाना था। महिला का मित्र आजाद इसमें मुख्य भूमिका में रहा। गौरव और अफजल भी इस साजिश में मिले हुए थे। अपनी संपत्ति विवाद को खत्म करने के लिए यह पड़यंत्र रचा था। पुलिस ने बताया कि इस खबर को वायरल करने के लिए भी एक अन्य व्यक्ति को पांच हजार रूपये दिए गए थे। ये व्यक्ति घटनास्थल से कुछ दूरी पर खड़ा था।

  • Share