'जुलाई के अंत तक कम होगी कोरोना की रफ्तार', AIIMS डायरेक्टर ने कही ये बात

By Arvind Kumar - June 25, 2020 4:06 pm

नई दिल्ली। कोरोना वायरस काफी तेज से देश में अपने पैर पसार रहा है। प्रतिदिन हजारों कोरोना वायरस के मामले सामने आ रहे हैं। इस बीच अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक रणदीप गुलेरिया का कहना है कि कोरोना मामलों की लहर जुलाई के अंत या फिर अगस्त के शुरुआत तक धीमी हो सकती है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि वायरस के संक्रमण को लेकर समयसीमा देना मुश्किल है। लेकिन लगता है कि जुलाई के अंत या अगस्त की शुरूआत से कोरोना वायरस ग्रोथ का ग्राफ धीमा हो सकता है।

वहीं उन्होंने कहा कि भारत कोरोना वायरस की दूसरी लहर के लिए संवेदनशील है। उन्होंने कहा कि 10 प्रमुख शहरों पर सबसे ज्यादा ध्यान दिया जाना चाहिए जो कि मामलों की वृद्धि में सबसे बड़े कारण बने हुए हैं। उन्होंने कहा कि देश में लंबे लॉकडाउन के बाद अनलॉक चल रहा है। लिहाजा सावधानियां बरतना बेहद जरूरी है।

रणदीप गुलेरिया ने कहा कि भारत भी कोरोना वायरस की दूसरी लहर के लिए संवेदनशील है। उन्होंने कहा कि हमें हॉटस्पॉट जैसे सीमित क्षेत्रों में लॉकडाउन की जरूरत हो सकती है। इसके बाद एक माइक्रो प्लान बनाया जाना चाहिए, जिससे बड़े पैमाने पर लोगों के टेस्ट और कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग का पता लगाया जाए।

AIIMS Director Randeep Guleria on Coronavirus India

इससे पहले एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने कहा था कि जून के महीने में कोरोना वायरस के मामले काफी तेजी से बढ़ेंगे। वहीं उन्होंने कहा था कि यह बीमारी एक बार में ही खत्म नहीं होगी। धीरे-धीरे कोरोनों पर नियंत्रण होगा।

---PTC NEWS---

adv-img
adv-img