अपनी विफलताओं का ठीकरा किसानों के सिर फोड़ने में लगी है सरकार : अशोक अरोड़ा

कुरुक्षेत्र। पूर्व मंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अशोक अरोड़ा ने कहा है कि हरियाणा सरकार कोरोना महामारी के बीच जनता को स्वास्थ्य सेवाएं देने में बिल्कुल विफल रही हैं। अब हरियाणा के मुख्यमंत्री अपनी विफलताओं का ठीकरा आंदोलनरत किसानों के सिर पर फोड़ रहे हैं। अरोड़ा अपने निवास स्थान पर पत्रकारों से वार्तालाप कर रहे थे।

अशोक अरोड़ा ने हिसार में किसानों पर लाठीचार्ज करने व आंसू गैस छोड़ने की कडी निंदा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को इस हालात में कार्यक्रम नहीं करने चाहिए। ये सब कार्यक्रम वर्चुअल तरीके से आयोजित हो सकते हैं।

उन्होनें आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री सहित गठबंधन सरकार के नेता किसानों द्वारा विरोध किए जाने की घोषणा के बावजूद कार्यक्रम आयोजित कर जातीय तनाव बढ़ाने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पिछले लगभग 6 माह से अपनी जान की परवाह न करके किसान तीनों कृषि कानून रद्द करवाने के लिए सड़कों पर हैं।

मुख्यमंत्री को चाहिए कि किसानों के जख्मों पर नमक छिड़कने की बजाए उनकी पैरवी करके प्रधानमंत्री से तीनों कृषि कानून रद्द करवाएं ताकि आंदोलनरत किसान सम्मान पूर्ण तरीके से अपने घर वापिस लौट सके।