अपराध/हादसा

रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार हुआ बिजली विभाग का लाइनमैन, मीटर एडजस्ट करने के लिए की थी 21 हजार की मांग

By Vinod Kumar -- August 13, 2022 12:38 pm -- Updated:August 13, 2022 12:40 pm

करनाल/डिंपल: स्टेट विजिलेंस ब्यूरो ने 70 हजार रुपये के बिल को एडजस्ट करने की एवज में 21 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए बिजली निगम के लाइनमैन को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। लाइनमैन प्रवीन बिजली निगम के नेवल कार्यालय में तैनात है।

ब्यूरो के निरीक्षक सचिन ने बताया कि उनके पास एक शिकायत आई थी। जिसमें बताया गया कि प्रीतमपुरा क्षेत्र में एक प्रॉपर्टी खरीद की गई थी, जिस पर पहले बिजली का मीटर लगा था जो कि काफी समय से बंद था। मीटर का बकाया बिल 70 हजार रुपये के करीब बन रहा था।

मीटर को एडजस्ट करने और नया मीटर लगवाने के लिए शिकायतकर्ता ने नेवल क्षेत्र के एक लाइनमैन प्रवीन पाल से संपर्क साधा तो उसने उनसे बिल एडजस्ट करने के लिए 21 हजार रुपये की डिमांड की। शिकायतकर्ता ने बताया कि उसने लाइनमैन को 21 हजार रुपये देने से इनकार कर दिया था, लेकिन लाइनमैन ने इनके बिना उसका काम न करने की बात कही और वह रिश्वत लेने पर अड़ा रहा।

इसके बाद पीड़ित ने विजिलेंस को शिकायत दी। विजिलेंस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी को 21 हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया। उन्होंने बताया कि आरोपी लाइनमैन को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा।

शिकायतकर्ता के अनुसार बिजली मीटर का बिल एडजस्ट करवाने के लिए वो बार-बार बिजली निगम के चक्कर काट रहे थे, लेकिन लाइनमैन सिर्फ रिश्वत के पैसों पर अड़ा रहा। इस दौरान लाइनमैन पीड़ित से बदसलूकी भी कर रहा था। अब शिकायत मिलने के बाद विजिलेंस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार किया है।

  • Share