हरियाणा

फसल बेचते समय अपना लैंड रिकॉर्ड नहीं देंगे किसान, संयुक्त किसान मोर्चा का फैसला

By Arvind Kumar -- March 18, 2021 10:16 am -- Updated:March 18, 2021 10:16 am

सोनीपत। (जयदीप राठी) सोनीपत के सिंघु बॉर्डर पर लगातार किसानों का आंदोलन जारी है। इस बीच संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने कहा कि सरकार फसल बेचते समय लैंड रिकॉर्ड मांगती है और संयुक्त किसान मोर्चा के द्वारा किसानों को आह्वान किया गया है कि वह अपनी फसल बेचते समय कोई भी लैंड रिकॉर्ड नहीं देंगे। इसके अलावा 19 तारीख को मंडियों में व्यापारियों के साथ प्रदर्शन होगा और 23 मार्च को भगत सिंह, सुखदेव व राजगुरु की याद में श्रद्धांजलि दी जाएगी। वहीं 26 तारीख को पूर्ण तरह भारत बंद रहेगा।

Crop फसल बेचते समय अपना लैंड रिकॉर्ड नहीं देंगे किसान, संयुक्त किसान मोर्चा का फैसला

किसान नेताओं ने कहा कि किसान फसल बेचते समय लैंड गारंटी रिकॉर्ड सरकार को नहीं देंगे। क्योंकि सरकार जो बिल लेकर आई है वह वापस नहीं हो रहे हैं और वह किसानों के खिलाफ हैं। इसीलिए संयुक्त किसान मोर्चा ने पंजाब व हरियाणा के किसानों को कहा है कि वह अपने लैंड रिकॉर्ड गारंटी सरकार को नहीं देंगे।

यह भी पढ़ें- मुख्यमंत्रियों से बोले पीएम मोदी- कोरोना की इस उभरती हुई “सेकंड पीक” को तुरंत रोकना होगा

यह भी पढ़ें- फसल नुकसान की भरपाई और उसके समाधान के लिए बजट की कोई कमी नहीं: उपमुख्यमंत्री

Samyukt Kisan Morcha Meeting फसल बेचते समय अपना लैंड रिकॉर्ड नहीं देंगे किसान, संयुक्त किसान मोर्चा का फैसला

किसान नेताओं ने कहा कि आगे की रूपरेखा पहले ही तैयार कर ली गई है। आने वाली 19 तारीख को सभी मंडियों में व्यापारियों के साथ प्रदर्शन करेंगे और उसके अलावा 23 तारीख को भगत सिंह, सुखदेव वे राजगुरु की याद में श्रद्धांजलि सभा की जाएंगी।

Crop फसल बेचते समय अपना लैंड रिकॉर्ड नहीं देंगे किसान, संयुक्त किसान मोर्चा का फैसला

किसान नेताओं ने कहा कि आने वाली 26 तारीख को पूर्ण भारत बंद रहेगा। सुबह 6:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक सभी चीजों को बंद रखा जाएगा। इसके अलावा 28 तारीख को होली दहन होता है। उसी दिन यहां काले कानूनों की प्रतियां भी जलाई जाएंगी।

  • Share