पूर्व विधायक के खिलाफ मामला दर्ज, पुलिस जांच में जुटी

FIR Against Former MLA in Palwal of Haryana
पूर्व विधायक के खिलाफ मामला दर्ज, पुलिस जांच में जुटी

पलवल। (गुरदत्त गर्ग) शहर से अतिक्रमण हटाने गई नगर परिषद की टीम को लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा। कार्यकारी अभियंता विजयपाल सिंह और अफसरशाही से खफा हुए लोगों के साथ काफी देर तक कहासुनी हुई। जो बाद में धक्का-मुक्की तथा शोर-शराबे में तब्दील हो गई। उसके बाद नगर परिषद की टीम मीनार गेट चौक से वापस लौट गई।

FIR Against Former MLA in Palwal of Haryana
पूर्व विधायक के खिलाफ मामला दर्ज, पुलिस जांच में जुटी

अतिक्रमणकारियों को जहां पूर्व विधायक तथा भाजपा नेता सुभाष चौधरी का साथ मिला वहीं नगर परिषद के अधिकारियों के साथ पुलिस बल भी मौजूद नहीं था। नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी ने इसे सरकारी काम में बाधा डालने के आरोप लगाते हुए पूर्व विधायक सहित दर्जनों लोगों के खिलाफ पुलिस को शिकायत दे दी। उधर पूर्व विधायक सुभाष चौधरी ने परिषद के अधिकारियों पर आरोप मढ़ते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

FIR Against Former MLA in Palwal of Haryana
पूर्व विधायक के खिलाफ मामला दर्ज, पुलिस जांच में जुटी

नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी की तरफ से सिटी थाने में दी गई शिकायत पर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर ने पूर्व विधायक सुभाष चौधरी व उनके भतीजे मयंक चौधरी के खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने तथा लोगों को हमले के लिए भड़काने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। शिकायत की प्रति उपायुक्त नरेश नरवाल, पुलिस अधीक्षक नरेंद्र बिजारनियां तथा एसडीएम जितेंद्र कुमार को भी दी गई। शिकायत में कहा गया है कि परिषद का दस्ता अतिक्रमण हटाने के लिए मीनार गेट पर पहुंचा, जहां एक रेहड़ी वाले ने खुद अपनी रेहड़ी पलट दी तथा शोर-शराबा शुरू कर दिया। एक रेहड़ी वाले ने सुभाष चौधरी को फोन कर दिया, जिस पर सुभाष चौधरी मौके पर पहुंच गए। शिकायत में कहा गया है कि चौधरी के उकसाने पर उनके साथ आए मयंक चौधरी तथा कुछ अन्य लोगों ने पथराव व मारपीट शुरू कर दी, जिसमें दो ट्रेक्टर चालक जगत व नरेंद्र जख्मी हो गए। वहीं पुलिस का कहना है कि नामजद सहित कुछ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा चुका है मामले की जांच चल रही है।

यह भी पढ़ें1 फरवरी से शुरू होगा सूरजकुंड शिल्प मेला, इस बार हिमाचल प्रदेश है ‘थीम स्टेट’

—PTC NEWS—