कुछ हटके

1 और 2 रुपए के सिक्के लेकर 11 हजार का बिल भरने पहुंच गया शख्स

By Arvind Kumar -- March 08, 2020 10:23 am -- Updated:March 08, 2020 10:36 am

फतेहाबाद। (साहिल रुखाया) फतेहाबाद में बिजली निगम और उपभोक्ता के बीच एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। बिजली निगम के द्वारा उपभोक्ता के घर 46 हजार रुपये का बिल भेज दिया गया। जिसके बाद बिजली निगम के उपभोक्ता ने कोर्ट की शरण ली और कोर्ट ने बिल पर स्टे लगा दिया। कोर्ट ने बिजली उपभोक्ता को आदेश दिए कि वह बिल की 25 फ़ीसदी राशि बिजली निगम को जमा करवा दें। कोर्ट के आदेश के बाद उपभोक्ता कुलदीप सिंह 11 हजार रुपये के एक-एक और दो-दो रुपये के सिक्के लेकर बिजली निगम पहुंच गया। इन सिक्कों को जब कुलदीप सिंह ने बैग में भरा तो इनका वजन 38 किलो के करीब था।

अब कुलदीप सिंह का आरोप है कि वह बिजली निगम के चार चक्कर काट चुका है, लेकिन बिजली निगम यह सिक्के ले नहीं रहा। मीडिया से बातचीत करते हुए बिजली उपभोक्ता कुलदीप सिंह ने बताया कि वह 4 दिनों से लगातार बिजली निगम के चक्कर काट रहा है।

Man came with 1 and 2 rupees coins to fill electricity bill 1 और 2 रुपए के सिक्के लेकर 11 हजार का बिल भरने पहुंच गया शख्स

कुलदीप का कहना है कि उसका भाई मानसिक रूप से परेशान है और उसकी विधवा मां कई महीनों से बेड रेस्ट पर है। जब कोर्ट ने उसको ₹11 हजार रुपये बिजली निगम को अदा करने के आदेश दिए तो उसने अपनी मां द्वारा जोड़े गए 1-1 और 2-2 के सिक्के इकट्ठे किए और 11 हजार रुपये लेकर बिजली निगम पहुंच गया। बिजली उपभोक्ता कुलदीप सिंह का आरोप है कि वह बिल भरने के लिए इंतजार करता रहा लेकिन बिजली निगम ने उससे यह सिक्के नहीं लिए। कुलदीप सिंह का कहना है कि बिजली निगम भारतीय करेंसी का अपमान कर रहा है।

Man came with 1 and 2 rupees coins to fill electricity bill 1 और 2 रुपए के सिक्के लेकर 11 हजार का बिल भरने पहुंच गया शख्स

वहीं इस संबंध में जब बिजली निगम के कैशियर दीपक कुमार से बात की गई तो उन्होंने कुलदीप सिंह के आरोपों पर सफाई दी। उन्होंने कहा कि कुलदीप सिंह उनके पास 11 हजार रुपये जमा करवाने के लिए एक-एक और दो-दो रुपए के सिक्के लेकर आया था। जिस पर निगम के कर्मचारियों ने उसे यह सिक्के बैंक में जमा करवाने की बात कही, निगम के कर्मचारी कुलदीप के साथ बैंक में चलने को भी तैयार थे। क्योंकि बिजली निगम का तर्क है कि उसके पास इन सिक्कों को गिनने के लिए साधन उपलब्ध नहीं है।

यह भी पढ़ें: अब इन पर होगी कार्रवाई, अनिल विज ने अधिकारियों को दिए निर्देश

---PTC NEWS---




  • Share