हरियाणा का लाल देश पर कुर्बान, घर पहुंचा पार्थिव शरीर

By Arvind Kumar - September 09, 2020 2:09 pm

भिवानी। (कृष्ण सिंह) कश्मीर के बारामूला में पाकिस्तान की ना-पाक हरकत की वजह से शहीद हुए भूपेंद्र सिंह का पार्थिव शरीर सोमवार को उनके पैतृक गांव बास रानिला नहीं पहुंच पाया लेकिन आज सुबह सभी लोगों का इंतजार खत्म हो गया। पाकिस्तान की ओर से की गयी बमबारी में शहीद भूपेंद्र सिंह का शरीर काफी क्षत-विक्षत हो गया था।

शहीद भूपेंद्र सिंह के पार्थिव शरीर को पहले रविवार सुबह श्रीनगर में श्रदांजलि दी गई इसके बाद में विमान से पार्थिव शरीर को नई दिल्ली लाया गया । जहां से शरीर को उनके गांव पहुंचाया गया। शहीद को श्रदांजलि देने के लिए गांव के सभी लोग इक्ट्ठे हुए थे।

Martyr Bhupendra Singh Cremation in Bhiwani | Haryana Latest News

बता दें कि शहीद भूपेन्द्र कुपवाड़ा जिले के नौगाम सेक्टर में एलओसी पर पाकिस्तान द्वारा युद्धविराम उल्लंघन के जवाब में एक पोस्ट से गोलीबारी कर रहे थे। इसी दौरान भूपेंद्र दुश्मनों की गोलाबारी में घायल हो गए, बाद में उन्होंने दम तोड़ दिया।

24 वर्षीय शहीद भूपेंद्र 26 दिसंबर 2015 को सेना में शामिल हुए थे। वे हरियाणा के भिवानी जिले के चरखी दादरी तहसील के ग्राम बास (रानीला) के रहने वाले थे, वे अपने पीछे उनकी पत्नी रेखा और 9 महीने का बेटा पुतिन छोड़ गए हैं। भूपेन्द्र को आर्टिलरी रेजिमेंटल सेंटर में दाखिला मिला था, जहां प्रशिक्षण पूरा होने के बाद वे अपनी मूल इकाई 327 मेड रेज में शामिल हो गए। इस वीर पुत्र ने दुश्मन के सामने शारीरिक और मानसिक शक्ति का प्रदर्शन किया। 9 माह के बेटे पुतिन ने भी पिता के चरण छूकर सलामी दी।

Martyr Bhupendra Singh Cremation in Bhiwani | Haryana Latest News

इस अवसर पर भिवानी महेंद्रगढ़ लोकसभा सांसद चौधरी धर्मवीर सिंह व पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान, दादरी विधायक के सोमवीर सांगवान ,पूर्व विधायक के राजवीर फोगाट सहित अनेक राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी शहीद भूपेंद्र को पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की।
भिवानी-महेन्द्र गढ़ लोकसभा सांसद चौधरी धर्मवीर सिंह ने कहा कि देश भक्तों के बलिदान की बदौलत ही भारत देश मजबूत है। उन्होंने कहा कि शहीद की याद में शहीद स्मारक बनाने, परिवार को आर्थिक सहायता व सरकारी नौकरी देने सहित अनेक बातों को वे हरियाणा के मुख्यमंत्री के समक्ष रखेंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र व प्रदेश की सरकार ने शहीदों के सम्मान में सभी रास्ते खोल रखे हैं। इसलिए शहीदों का जो भी सम्मान बनता है उसे केंद्र सरकार भी देती है और प्रदेश सरकार भी देती है।

Martyr Bhupendra Singh Cremation in Bhiwani | Haryana Latest News

इस अवसर पर पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान व पूर्व विधायक राजबीर फोगाट ने शहीद परिवार को सरकारी नौकरी में आर्थिक मदद देने की मांग की।

---PTC NEWS---

adv-img
adv-img