adv-img
प्रमुख खबरें

कोरोना वैक्सीन ट्रायल: DCGI ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को भेजा नोटिस

By Arvind Kumar -- September 10th 2020 10:05 AM -- Updated: September 10th 2020 10:07 AM

नई दिल्ली। ब्रिटेन की फार्मास्यूटिकल कंपनी एस्ट्राजेनेका की कोरोना वायरस वैक्‍सीन से एक वालंटियर पर दुष्प्रभाव पड़ा है। इसके चलते कंपनी ने अमेरिका, यूके, ब्राजील और साउथ अफ्रीका में वैक्सीन का ट्रायल फिलहाल रोक दिया गया है। लेकिन भारत में इस ट्रायल को नहीं रोका गया है! इसे लेकर अब ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) ने भारत में एस्ट्राजेनेका की सहयोगी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को कारण बताओ नोटिस भेजा है।

नोटिस में पूछा गया है कि जब तक मरीज की सुरक्षा पर सवाल है, तब तक आप को मिली क्लीनिकल ट्रायल की इजाजत क्यों ना निलंबित कर दी जाए? ऐसे में देखना होगा कि अब सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया इस नोटिस का जवाब कब तक देता है।

Show cause notice to Serum Institute of India from DCGI

दरअसल एस्ट्राजेनेका ने ऑक्सफोर्ड कोरोनावायरस वैक्सीन के ट्रायल को अन्य देशों में रोक दिया है, इसकी जानकारी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने ड्रग रेगुलेटर (DCGI) को नहीं दी, ना ही सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने वैक्सीन के ट्रायल में एक व्यक्ति में दिखे गंभीर परिणामों की जानाकारी साझा की।

यहां आपको बता दें कि एस्ट्राजेनेका उन 9 कंपनियों में से एक है, जो वैक्सीन बनाने की रेस में सबसे आगे है। कई देशों में इस वैक्सीन का ट्रायल बड़े स्तर पर चल रहा है। इसका ट्रायल तीसरे चरण पर पहुंच गया है। कंपनी ने अमेरिका में 31 अगस्त को 30,000 वॉलंटियर्स को ट्रायल के लिए भर्ती किया है।

---PTC NEWS---

  • Share