हरियाणा पुलिस का पेपर रद्द होने के बाद फूटा युवाओं का गुस्सा

By Arvind Kumar - August 11, 2021 3:08 pm

रोहतक। (अंकुर सैनी) हरियाणा पुलिस के पेपर रद्द होने के बाद युवाओं का गुस्सा आए दिन बढ़ता जा रहा है। सैकड़ों युवाओं ने आज रोहतक में रोष प्रकट करते हुए सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। भर्ती परीक्षा की तैयारी करने वाले युवाओं ने आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रखी है। वहीं, पेपर पैटर्न निर्धारित करने की भी मांग की।

हाथों में चार्ट लिए हुए नजर आ रहे तमाम विद्यार्थियों ने सरकार से समय पर भर्ती कराने की मांग की। इस दौरान परीक्षा की तैयारी करवाने वाले शिक्षक भी प्रदर्शन में शामिल हुए।

भर्ती परीक्षा की तैयारी कर रहे अजय ने बताया कि मौजूदा सरकार में कई बार पेपर लीक हो चुके हैं। भर्तियां रद्द होना आम बात हो चुकी है। पिछले कई सालों से अपना घर - परिवार छोड़कर अजय रोहतक में रहकर भर्ती परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। सुबह से शाम तक लाइब्रेरी में पढ़ाई कर भर्ती का इंतजार करते हैं लेकिन भर्ती होने से पहले ही रद्द हो जाती हैं। उनका परिवार भी अपने बेटे की कामयाबी का इंतजार कर रहा है।

यह भी पढ़ें- हिमाचल में 22 अगस्त तक स्कूल बंद, बाहरी राज्यों से आने वाले व्यक्तियों के लिए बदला नियम

यह भी पढ़ें- दो बहनों की गैंगरेप के बाद हत्या, आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस टीमें कर रही छापेमारी

उनके शिक्षक कृष्ण मोहन व प्रवीण राठी ने एचएसएससी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आज नौकरी के लिए युवाओं को पहले से ज्यादा संघर्ष करना पड़ रहा है। सरकार न तो समय पर वेकेंसी निकालती है और न ही निष्पक्षता से पेपर कंडक्ट करती है। प्रश्न पत्र के पैटर्न में भी अपनी मर्जी से बदलाव किया जाता है जो उचित नहीं है। उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि हर भर्ती के लिए प्रश्न पत्र का पैटर्न एचएसएससी को तय करना चाहिए साथ ही पेपर लीक करने वालों के खिलाफ सख्त कानून बनाने चाहिए। समय से नौकरी न मिलने से युवा आत्महत्या तक करने को मजबूर हो चुका है।

adv-img
adv-img