सिरसा में किसानों पर वाटर कैनन का प्रयोग, छोड़े गए आंसू गैस के गोले

Water canon used on farmers in Sirsa | Haryana News

 सिरसा। तीन कृषि कानूनों के विरोध में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला व कैबिनेट मंत्री चौ. रणजीत सिंह चौटाला के आवास का घेराव करने जा रहे किसानों को पुलिस ने बैरिकेटिंग लगाकर रोक दिया। पुलिस ने किसानों पर वाटर कैनन का प्रयोग किया और साथ ही आंसू गैसे के गोले भी छोड़े।

Water canon used on farmers in Sirsa | Haryana News

दरअसल प्रदर्शनकारियों ने सुरक्षा घेरा तोड़ने का प्रयास किया था। इसके बाद पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े व वाटन कैनन का इस्तेमाल कर किसानों को धरनास्थल से खदेड़ा। इससे बरनाला रोड पर स्थिति तनावपूर्ण बन गई।

Water canon used on farmers in Sirsa | Haryana News

educareइससे पूर्व प्रदर्शनकारी नारेबाजी करते हुए भुम्मणशाह चौक पर पहुंचे। प्रदर्शनकारियों ने बेरिगेट तोड़ने के भी प्रयास किए। ऊपर से कूदकर आगे बढ़ने की भी कोशिश की गई। इसके बाद प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व कर रहे लोगों के आह्वान पर मामला कुछ शांत हुआ। इसके बाद प्रदर्शनकारी सड़क पर जाम लगाकर बैठ गए। उनका कहना था कि वे आज उपमुख्यमंत्री व कैबिनेट मंत्री से मुलाकात करके ही जाएंगे। यह भी पढ़ें: किसानों के हकों के लिए अनशन पर बैठे कुंडू को अकाली दल का समर्थन

Water canon used on farmers in Sirsa | Haryana News
बता दें कि किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त कर रखे थे। उपमुख्यमंत्री व कैबिनेट मंत्री के आवास की ओर आने वाले मार्गों व गलियों को भी सील कर दिया गया था। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए जगह-जगह बेरिगेटिंग की गई थी।