राजनीति

पुलिस भर्ती मामले में विपक्ष कर रहा राजनीति, हर आरोपी पर होगी कड़ी कार्रवाई: सीएम जयराम

By Vinod Kumar -- May 21, 2022 12:05 pm

हिमाचल प्रदेश पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में सियासत उफान पर है। विपक्ष पेपर लीक मामले को लेकर सरकार पर हमलावर है। सरकार ने पेपर लीक मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी है, लेकिन विपक्ष उच्च न्यायालय के न्यायधीश की देखरेख में मामले की जाँच की मांग उठा रहा है।

इस विषय पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने विपक्ष के हमलों पर पलटवार करते हुए कहा कि विपक्ष पहले सीबीआई जांच की मांग उठा रहा था, जब उन्होंने सीबीआई जांच के आदेश दे दिए। ऐसे में अब उच्च न्यायालय की जांच की मांग कर रहा है. ये सरासर राजनीति है और कुछ नहीं हैं। कांग्रेस अब कह रही है कि DGP और CM का त्यागपत्र होना चाहिए। न्यायिक जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस तरह मामला उलझ जाएगा।

cm jairam thakur, himachal police written exam scam, himachal, himachal police paper leak

पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में अभी तक 70 से ज्यादा लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है, लेकिन किसी भी पुलिस वाले पर अभी तक कार्रवाई नहीं की गई है। इसे लेकर पूछे गए सवाल पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा की सरकार के ध्यान में जैसे ही मामला आया उस पर त्वरित कार्रवाई करते हुए एसआईटी का गठन कर जांच में तेजी लाई गई और गिरफ्तारियां की गई यदि कोई पुलिस का अफसर भी मामले में शामिल हुआ तो उसको भी नहीं छोड़ा जाएगा।

hp police Exam

प्रदेश सरकार ने सीबीआई को जांच का जिम्मा सौंपने का निर्णय लिया है हालांकि अभी सीबीआई ने मामला अपने हाथ में नहीं लिया है, जब तक सीबीआई मामले को अपने हाथ में नहीं लेती है तब तक प्रदेश में एसआईटी मामले की जांच करेगी। मामले की जांच को अंज़ाम तक पहुंचाया जाएगा और दोषियों पर कार्रवाई अमल में लाई जायेगी। एसआईटी दोषियों के करीब पहुंच चुकी है।

Paper leak case Haryana

बता दें कि हिमाचल पुलिस भर्ती की लिखित परीक्षा का प्रश्न पत्र परीक्षा से पहले ही लीक हो गया था। कांगड़ा पुलिस ने जांच के बाद इसका खुलासा किया था। इसते तार दिल्ली, हरियाणा, यूपी, बिहार से जुड़े हैं। चंद्रगुप्त नाम के आरोपी को इसका मास्टरमाइंड बताया जा रहा है। चंद्रगुप्त पहले भी पेपर लीक मामले में जेल जा चुका है।

  • Share