हरियाणा

क्रप्शन में फंसे IAS के घर पर चल रही थी विजिलेंस की रेड, गोली चलने से बेटे की मौत

By Vinod Kumar -- June 25, 2022 4:13 pm

चंडीगढ़: भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे पंजाब के वरिष्ठ IAS अफसर संजय पोपली के बेटे कार्तिक पोपली की चंडीगढ़ के सेक्टर-11 में स्थित उनके घर पर गोली लगने से मौत हो गई। कार्तिक पोपली की उम्र 26 साल थी।

बताया जा रहा है कि घटना के समय पोपली के चंडीगढ़ स्थित घर में विजिलेंस जांच कर रही थी। विजिलेंस की टीम कुछ दस्तावेजों को खंगाल रही थी। इसी दौरान घर से गोली चलने की आवाज आई। परिवार ने विजिलेंस पर बेटे कार्तिक को गोली मारने का आरोप लगाया है। परिवार का आरोप है कि उन्हें जानबूझकर परेशान किया जा रहा था। घर पर रेड के दौरान उनके बेटे को प्रताड़ित किया गया। वहीं, चंडीगढ़ के एसएसपी कुलदीप चहल ने कहा कि कार्तिक ने अपने लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मारी है।

बता दें कि विजिलेंस ने 4 दिन पहले ही संजय पोपली को करप्शन के केस में गिरफ्तार किया था। पोपली को आज ही मोहाली कोर्ट में पेशी है। IAS अधिकारी संजय पोपली पर आरोप है कि पंजाब सीवरेज बोर्ड का CEO रहते हुए 7.3 करोड़ रुपए के सीवरेज प्रोजेक्ट में 1% कमीशन मांगा था।

बिल क्लीयर करने के एवज में पोपली कमीशन की डिमांड करते थे। ठेकेदार ने 3.50 लाख की पहली किश्त दे दी थी। दूसरी किश्त का दबाव डाले जाने पर ठेकेदार ने पंजाब सीएम की एंटी करप्शन हेल्पलाइन पर शिकायत कर दी। जिसके बाद पोपली को गिरफ्तार कर लिया गया।

संजय पोपली की गिरफ्तारी के बाद विजिलेंस ने उनके चंडीगढ़ के सेक्टर 11 स्थित इसी घर की तलाशी ली थी। वहां से 73 कारतूस मिले। इनमें 7.65MM के 41, 32 बोर के 2 और 22 बोर के 30 कारतूस मिले। जिस वजह से पोपली पर आर्म्स एक्ट का केस दर्ज किया गया था।

  • Share