एनसी और पीडीपी ने अनुच्छेद 370 के बारे में लोगों को बरगलाया : नड्डा

JP Nadda 1
एनसी और पीडीपी ने अनुच्छेद 370 के बारे में लोगों को बरगलाया : नड्डा

बेंगलुरु। “एक भारत, एक संविधान” पर बेंगलुरु में आयोजित कार्यक्रम में बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि अनुच्छेद 370 के बारे में गलत धारणा थी कि ये कश्मीर को स्पेशल स्टेटस देता है। उन्होंने कहा कि नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी के सभी नेताओं ने गलतफहमी फैलाने के लिए ये झूठ बोला। जबकि भारतीय संविधान में लिखा है कि 370 अस्थायी है और बदलने वाला है।

नड्डा ने कहा कि अनुच्छेद 370 के प्रावधान जम्मू-कश्मीर में लगाते हुए जवाहर लाल नेहरु ने माना था कि हमारे दो झंडे होंगे, दो प्रधान होंगे। इस तरह देश के विभाजन का प्रयास किया गया। देश में अलगाववाद के बीज बोने का काम 35A ने किया।’

जेपी नड्डा ने कहा कि शेख अब्दुल्ला ने 1951 में पहली बार विधानसभा चुनाव में अपनी मनमर्जी से 75 विधायक अपनी पार्टी के बना लिये थे। तब से अनुच्छेद 370 के खिलाफ विरोध शुरु हुआ। करीब 18 लोग तब मारे गय़े। श्यामा प्रसाद मुखर्जी भी इस आंदोलन में बलिदान हो गए। उन्होंने कहा कि

अनुच्छेद 370 के कारण सूचना का अधिकार, बच्चों को यौन अपराधों से संरक्षण देने वाला कानून, पंचायती राज समेत 104 कानून जो देश की संसद से पारित हुए थे, वो जम्मू कश्मीर में नहीं लगते थे। दूसरे राज्यों से जम्मू कश्मीर में बसने वाले सफाई कमर्चारियों को वहां की सरकार में दूसरी किसी नौकरी का हक भी नहीं था। दूसरे राज्यों में विवाह करने वाली महिलाओं को पुश्तैनी जायदाद के अधिकार नहीं थे। ऐसे में 370 को हटाना बहुत जरूरी हो गया था।

JP Nadda 1
एनसी और पीडीपी ने अनुच्छेद 370 के बारे में लोगों को बरगलाया : नड्डा

बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की इच्छा शक्ति के कारण जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए विलोपित हो सका और एक देश में एक प्रधान, एक विधान और एक संविधान का सपना साकार हुआ। उन्होंने कहा कि अब भारत की संसद से पारित कानून जम्मू कश्मीर में लग रहे हैं, वहां अब परिसीमन होगा, महिलाओं को प्रोपर्टी के अधिकार होंगे, सफाई कर्मचारियों को उनका हक मिलेगा।

यह भी पढ़ें : ह्यूस्टन में भारतीयों से मिले मोदी, आज शाम को होगा ‘Howdy Modi’ कार्यक्रम

—PTC NEWS—