वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन ही काफी नहीं, बुकिंग भी करवाएं

चंडीगढ़। हरियाणा में 18 से 44 साल की आयु के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए कोविन ऐप पर अपना रजिस्ट्रेशन कराने के साथ-साथ बुकिंग भी करवानी होगी क्योंकि बुकिंग कराने पर ही इस बात की सटीक जानकारी मिल सकेगी कि उन्हें किस केंद्र पर कितने बजे वैक्सीनेशन के लिए जाना है। सरकार की इस पहल का मकसद एक वैक्सीनेशन सेंटर पर भीड़ को एकत्र होने से रोकना है।

स्वास्थ्य विभाग के एक प्रवक्ता ने इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि रजिस्ट्रेशन से साइट पर सिर्फ लोगों का व्यक्तिगत विवरण दर्ज होता है और उन्हें आईडी एवं पासवर्ड जारी किया जाता है। लेकिन बुकिंग कराने से वैक्सीनेशन के लिए उपलब्ध सबसे निकटवर्ती केंद्र और संबंधित व्यक्ति के लिए टीकाकरण हेतु निर्धारित अवधि की सटीक जानकारी मिलती है।
corona

उन्होंने बताया कि कोविशिल्ड और कोवैक्सीन दोनों स्वदेशी वैक्सीन हैं जो पूरी तरह सुरक्षित हैं। टीका लगने के बाद आने वाला बुखार या हरारत सामान्य लक्षण हैं, जिनसे घबराने की कतई जरूरत नहीं है। टीके के प्रभाव हर व्यक्ति पर अलग-अलग देखने को मिल सकते हैं। कोविशील्ड की दो खुराकों के बीच अंतर को बढ़ाकर अब 12 से 16 हफ्ते इसलिए किया गया है क्योंकि विदेशों में इसके बेहतर परिणाम देखे गए हैं।

यह भी पढें: वैक्सीन की किल्लत जल्द होगी दूर

यह भी पढें:अब 12-16 सप्ताह बाद लगेगी COVISHIELD वैक्सीन की दूसरी खुराक

कोवैक्सीन की दो खुराकों के बीच का अंतर अब भी 4 हफ्ते ही है। उन्होंने बताया कि टीकाकरण की शुरुआत में इसके प्रति लोगों में काफी उदासीनता थी। लोग टीकों को संदेह की नजरों से देख रहे थे, लेकिन अब टीकाकरण के प्रति लोगों का नजरिया बदला है और 18 से 44 साल तक के आयु वर्ग के लोग टीकाकरण में बढ़-चढकऱ भाग ले रहे हैं।