हरियाणा

जीएसटी कलेक्शन के टूटे सारे रिकॉर्ड, अप्रैल में सरकार की झोली में आए 1.68 लाख करोड़

By Vinod Kumar -- May 01, 2022 2:16 pm -- Updated:May 01, 2022 2:16 pm

देश में देश में जीएसटी (GST) कानून लागू होने के बाद से अप्रैल 2022 में सरकार द्वारा सबसे ज्यादा टैक्स कलेक्शन किया है। प्रैल में जीएसटी कलेक्शन के आंकड़े ने पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के पहले महीने में सरकार ने जीएसटी (GST) के जरिए रिकॉर्ड 1.68 लाख करोड़ रुपये जुटाए।

पहली बार जीएसटी कलेक्शन 1.50 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा रहा है. इस तरह अप्रैल के जीएसटी कलेक्शन का डेटा किसी भी महीने के जीएसटी कलेक्शन के आंकड़े से ज्यादा है। आर्थिक गतिविधियों में सुधार की वजह से जीएसटी कलेक्शन में यह जबरदस्त इजाफा देखने को मिला है। इससे पहले मार्च 2022 में भी रिकॉर्ड जीएसटी कलेक्शन देखा गया था। मार्च के महीने में सरकार की कुल 1,42,095 करोड़ रुपये की कमाई जीएसटी के रूप में हुई थी।

Centre denies reports of GST council planning to raise tax slab to 8%

सरकार ने बताया है कि इस साल अप्रैल में इम्पोर्टेड सामानों से 30 फीसदी ज्यादा जीएसटी कलेक्शन हुआ। वहीं, घरेलू लेनदेन से होने वाले कलेक्शन में 17 फीसदी का इजाफा देखने को मिला। इसके साथ ही सरकार ने बताया है कि 20 अप्रैल, 2022 को सबसे ज्यादा जीएसटी कलेक्शन हुआ। ये आंकड़े दिखाता हैं कि टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन द्वारा उठाए गए कदमों से टैक्सपेयर्स के बीच Compliance बढ़ा है।

No raise in GST tax slab

मार्च से 25 हजार करोड़ ज्यादा
इस साल मार्च महीने में सरकार ने GST के जरिए 1,42,095 करोड़ रुपये जुटाए थे। इस तरह देखा जाए तो मार्च के मुकाबले अप्रैल में करीब 25,000 करोड़ रुपये का ज्यादा कलेक्शन हुआ। पिछले साल अप्रैल में सरकार ने जीएसटी के जरिए 1,39,708 करोड़ रुपये जुटाए थे। इस तरह सालाना आधार पर जीएसटी कलेक्शन में 20 फीसदी का इजाफा दर्ज किया गया।

No raise in GST tax slab

जीएसटी कलेक्शन का पूरा ब्यौरा
नए वित्त वर्ष के पहले महीने में कुल जीएसटी कलेक्शन (Gross GST Collection) का आंकड़ा 1,67,540 करोड़ रुपये पर रहा। इसमें CGST के रूप में सरकार ने 33,159 करोड़ रुपये, SGST के रूप में 41,793 करोड़ रुपये, IGST के जरिए 81,939 करोड़ रुपये और सेस के जरिए 10,649 करोड़ रुपये जुटाए।

  • Share