DRDO की 2डीजी का पहला बैच लॉंच, मरीजों की ऑक्सीजन डिपेंडेंसी 40 फीसदी होगी कम

DRDO की 2डीजी का पहला बैच लॉंच, मरीजों की ऑक्सीजन डिपेंडेंसी 40 फीसदी होगी कम

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज एंटी कोविड दवा 2डीजी का पहला बैच लॉंच किया। इस कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ.हर्षवर्धन और एम्स के निदेशक डॉ.रणदीप गुलेरिया भी मौजूद रहे। यह दवा डीआरडीओ के इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड अलाइड साइंसेज ने डॉ. रेड्डी लैबोरेट्रीज के सहयोग से बनाई है।

इस दौरान राजनाथ सिंह ने बताया कि इसके प्रयोग से सामान्य उपचार की अपेक्षा लोग ढाई दिन जल्दी ठीक हुए हैं। साथ ही ऑक्सीजन dependency भी लगभग 40 फ़ीसदी तक कम देखने को मिली है। इसका पाउडर फॉर्म में होना भी इसकी एक बड़ी खासियत है। इसे ORS घोल की तरह इसका इस्तेमाल लोग बड़ी आसानी से कर सकेंगे।

यह भी पढ़ें: हिसार में 500 बेड के अस्थाई कोविड अस्पताल का उदघाटन

यह भी पढ़ें: अपनी विफलताओं का ठीकरा किसानों के सिर फोड़ने में लगी है सरकार : अशोक अरोड़ा

“अब तक हम डिफेंस के क्षेत्र में डीआरडीओ और प्राइवेट पार्टनरशिप की बात करते थे। आज हेल्थ के सेक्टर में भी डीआरडीओ और प्राइवेट सेक्टर की पार्टनरशिप का इतना अच्छा परिणाम देख कर मुझे वाकई बहुत खुशी हो रही है: रक्षा मंत्री”

इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री डॉ.हर्षवर्धन ने कहा कि मई के महीने में आज का दिन हम सबके लिए सबसे ज़्यादा सुखद दिन है। हम एक साल से ज़्यादा समय से कोविड की जंग लड़ रहे हैं। रक्षा क्षेत्र के आउटकम के तहत ये हमारी पहली स्वदेशी दवा है, ये कोविड वायरस के प्रकोप को वैज्ञानिक दृष्टिकोण से कम करने की पूरी क्षमता रखती है।