Sun, Apr 21, 2024
Whatsapp

CM खट्टर के मंत्री देवेंद्र सिंह बबली पर लगा दुर्व्यवहार का आरोप

नगरपालिका परिषद के एक नगर अभियंता ने हरियाणा के विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र सिंह बबली पर तीन दिन पहले फतेहाबाद जिले के बिदाई खेड़ा गांव में अपने आवास पर एक बैठक के दौरान दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है।

Written by  Shivesh jha -- March 08th 2023 03:34 PM
CM खट्टर के मंत्री देवेंद्र सिंह बबली पर लगा दुर्व्यवहार का आरोप

CM खट्टर के मंत्री देवेंद्र सिंह बबली पर लगा दुर्व्यवहार का आरोप

टोहाना नगरपालिका परिषद के एक नगर अभियंता ने हरियाणा के विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र सिंह बबली पर तीन दिन पहले फतेहाबाद जिले के बिदाई खेड़ा गांव में अपने आवास पर एक बैठक के दौरान दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। हालांकि, मंगलवार को एक ठेकेदार मंत्री के बचाव में आया और आरोप लगाया कि इंजीनियर 50 लाख रुपये का बिल पास करने के लिए उनसे 2 लाख रुपये की रिश्वत मांग रहा है।

रमनदीप ने आरोप लगाया है कि स्थानीय ठेकेदार को कुछ भुगतान जारी करने से इनकार करने पर बबली ने एक कुर्सी पर लात मारी और उसके साथ मारपीट की। जबकि मंत्री ने दावों का खंडन किया है। फतेहाबाद के जिला नगर आयुक्त को दी गई अपनी शिकायत में रमनदीप ने आरोप लगाया कि बबली के एक सहयोगी ने मंत्री को उनके खिलाफ तब उकसाया जब वह निर्माण कार्य में कमियों की बात कर रहे थे।


द प्रिंट के मुताबिक, रमनदीप ने आरोप लगाया कि मंत्री ने पूछा कि मेरी जाति के व्यक्ति को नगर निगम का इंजीनियर किसने बनाया और फिर ऐसी गालियां दीं जो मेरे लिए अपनी शिकायत में लिखना संभव नहीं है।

रमनदीप ने अपनी शिकायत में कहा कि उन्हें अपनी जान का खतरा है और उन्होंने टोहाना से बाहर स्थानांतरण की मांग की। उन्होंने नगर आयुक्त को यह भी बताया कि जब तक उनका तबादला नहीं हो जाता, तब तक वे विरोध में अवकाश पर हैं।

जननायक जनता पार्टी के विधायक बबली ने रमनदीप पर बिल पास कराने के लिए रिश्वत मांगने का आरोप लगाया है। विधायक ने कहा कि मेरे टोहाना से विधायक चुने जाने से पहले चीजें बहुत खराब स्थिति में थीं। कुछ अधिकारियों ने रिश्वत लिए बिना फाइलें ट्रांसफर करने से मना कर दिया। मैंने सिस्टम को बदलने का फैसला किया जिसके बाद अब मुझ पर इस तरह के झूठे आरोप लग रहे हैं।

उन्होंने यह भी दावा किया कि उन्हें निर्माण कार्य में कमियों की जानकारी नहीं थी और इसे कभी उनके ध्यान में नहीं लाया गया। बता दें कि पिछले महीने, बबली ने ग्राम प्रधानों को चोर कहकर विवाद खड़ा कर दिया था, क्योंकि वे हरियाणा सरकार की नई ई-टेंडरिंग नीति का विरोध कर रहे थे।

- With inputs from agencies

adv-img

Top News view more...

Latest News view more...