राजनीति

ना मंडी बंद हुई, ना MSP कम हुआ, कृषि को आधुनिक व मजबूत कर रही सरकार: डिप्टी सीएम

By Arvind Kumar -- June 21, 2021 7:06 pm -- Updated:Feb 15, 2021

सिरसा/चंडीगढ़। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि राज्य सरकार कृषि के क्षेत्र को मजबूत व आधुनिक बनाने की दिशा में निरंतर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने पिछले डेढ़ साल में किसानों के हित में लगातार ऐतिहासिक कदम उठाएं है और किसान सरकार द्वारा दी जा रही योजनाओं का लाभ उठाए। वे सोमवार को सिरसा में चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय में पूर्व उपप्रधानमंत्री चौ. देवीलाल की 18 फीट की विशाल प्रतिमा का अनावरण करने उपरांत पत्रकारों से रूबरू थे। इस अवसर पर राज्य मंत्री अनूप धानक भी मौजूद रहे।

डिप्टी सीएम ने कहा कि गठबंधन सरकार ने 600 दिन पूरे होने पर इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर खरीद पर किसानों को 25 प्रतिशत सब्सिडी देने की घोषणा की है ताकि किसान डीजल छोड़कर ई-ट्रैक्टर के उपयोग करने की ओर बढ़े। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सरकार का यही लक्ष्य है कि कृषि क्षेत्र को बेहतर और आधुनिक बनाया जाए ताकि उसका किसानों को लाभ मिले। उन्होंने कहा कि सरकार बाजरा की फसल छोड़कर दलहन की खेती करने वाले किसान को चार हजार रुपये अतिरिक्त सहायता दे रही है। इसी तरह सरकार धान की खेती बदलने वाले किसानों को सात हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि पहले से दे रही है, जिसके कारण करीब एक लाख एकड़ में किसानों ने धान की खेती कम की और फायदा मिला।

यह भी पढ़ें- कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाने वालों को 25% का डिस्काउंट

यह भी पढ़ें- किसान आंदोलन के दौरान सेवा करने वाले समाजसेवी रामसिंह राणा सम्मानित


किसान आंदोलन के सवाल पर दुष्यंत चौटाला ने किसानों की मांग दोहराते हुए कहा कि क्या पिछले एक साल में एक भी मंडी बंद हुई है? उन्होंने कहा कि किसानों की दूसरी मांग एमएसपी उन्हें मिले, यह थी। डिप्टी सीएम ने कहा कि हरियाणा सरकार ने करीब 16 हजार करोड़ रुपये और करीब 27 हजार करोड़ रुपये पंजाब सरकार ने किसानों के खाते में डालने का काम किया है, क्या इससे किसान बर्बाद हुए ?

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसानों का तीसरा विषय जमीन कब्जाने को लेकर था। उन्होंने कहा कि किसान लंबे अरसे कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग करता आ रहा है, इतने समय में क्या किसी किसान की जमीन पर कब्जा हुआ ? डिप्टी सीएम ने कहा कि केवल किसानों को भ्रमित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब यह आंदोलन किसानों के हाथ में नहीं रहा बल्कि राजनीति से प्रेरित हो गया है। दुष्यंत चौटाला ने यह भी कहा कि सिरसा में किसानों के मसीहा चौधरी देवीलाल जी की मूर्ति का अनावरण और हिसार में मेरी नानी जी के निधन पर शोक जताने के लिए पहुंचने पर विरोध करने वाले किसान नहीं है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि चौ. देवीलाल जी किसानों के लिए एक ऐसी संस्थान रहे हैं, जिन्होंने किसानों का भला किया।

  • Share