धर्म

करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन, 550 लोगों का पहला जत्था पाकिस्तान रवाना

By Arvind Kumar -- November 09, 2019 1:11 pm -- Updated:Feb 15, 2021

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भारत-पाकिस्तान को जोड़ने वाला करतारपुर कॉरिडोर संगत को समर्पित कर दिया। प्रधानमंत्री ने पंजाब के गुरूदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक में करतारपुर गलियारे पर एकीकृत चेक पोस्ट का उद्घाटन किया और पहले जत्थे को कॉरिडोर से पाकिस्तान रवाना कर दिया। इस जत्थे में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह सहित 550 लोग शामिल है। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने सुल्तानपुर लोधी स्थित गुरुद्वारा बेर साहिब के दर्शन किए।

PM Modi 1 करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन, 550 लोगों का पहला जत्था पाकिस्तान रवाना

डेरा बाबा नानक में संबोधन करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के मौके पर सभी को बधाई देता हूं, इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आज उन्हें जो सम्मान दिया गया है उसका आभार व्यक्त करता हूं। करतारपुर कॉरिडोर के रास्ते को खुलने के लिए कहा कि इस बार खुशियां डब्ल हो गई है। करतारपुर के काम को तय समय में तैयार करने के लिए पीएम मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को धन्यवाद दिया और वहां के मजदूरों को भी धन्यवाद किया जिन्होंने तय समय तब इस काम को पूरा किया।

PM Modi करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन, 550 लोगों का पहला जत्था पाकिस्तान रवाना

पीएम मोदी ने कहा कि करतारपुर केवल गुरुनानक देवजी की कर्मभूमि नहीं है बल्कि करतापुर के कण-कण में गुरुनानक देवजी के पसीने की महक मिली हुई है। उसकी वायु में उनकी वाणी घुली हुई है। "अपनी यात्राओं का मकसद, गुरु नानक देव जी ने ही बताया था- बाबे आखिआ, नाथ जी, सचु चंद्रमा कूडु अंधारा! कूडु अमावसि बरतिआ, हउं भालण चढिया संसारा!" प्रधानमंत्री ने कहा कि कहते हैं शब्द हमेशा ऊर्जा बनकर वातावरण में विद्यमान रहते हैं। करतारपुर से मिली गुरुवाणी की ऊर्जा, सिर्फ हमारे सिख भाई-बहनों को ही नहीं बल्कि हर भारतवासी को अपना आशीर्वाद देगी।

Kartarpur 2 (1) करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन, 550 लोगों का पहला जत्था पाकिस्तान रवाना

सरकार ने करतारपुर साहिब जाने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए डेरा बाबा नानक से लेकर अंतर्राष्ट्रीय सीमा तक एक गलियारा बनाया है। भारत ने अपनी सीमा में गलियारे पर 15 एकड़ में एक अत्याधुनिक यात्री टर्मिनल बनाया है। इस टर्मिनल पर हर रोज 5000 यात्रियों के लिए बुनियादी सुविधाओं का इंतजाम किया गया है। अंतर्राष्ट्रीय सीमा से आगे गलियारे का निर्माण पाकिस्तान की ओर से किया गया है।

Kartarpur 3 (1) करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन, 550 लोगों का पहला जत्था पाकिस्तान रवाना

उल्लेखनीय है कि गुरु नानक देव के 550 वें प्रकाशोत्सव वर्ष में भारतीय श्रद्धालुओं के पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा करतारपुर साहिब जाने के लिए भारत और पाकिस्तान ने एक समझौते के तहत इस कॉरिडोर का निर्माण किया है। भारत और पाकिस्तान ने इस गलियारे के संबंध में गत 24 अक्टूबर को हस्ताक्षर किये थे। केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 22 नवम्बर 2018 को गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती को धूमधाम से मनाने के संबंध में एक प्रस्ताव पारित किया था।

यह भी पढ़ें : अयोध्या पर आया सुप्रीम फैसला, राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ

---PTC NEWS---