कृषि कानूनों के खिलाफ अकाली दल ने संसद के बाहर किया प्रदर्शन

By Arvind Kumar - July 19, 2021 12:07 pm

नई दिल्ली। आज से संसद का मॉनसून सत्र शुरू हो गया है। सत्र का पहला ही दिन हंगामेदार रहा। विपक्ष के सांसदों के हंगामे के बीच लोकसभा की कार्यवाही दोपहर 2 बजे तक स्थगित करनी पड़ी है।

इस बीच शिरोमणि अकाली दल ने कृषि कानूनों के खिलाफ संसद के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने बताया, "देश के किसान इंसाफ चाहते हैं। हम चाहते हैं कि सारी पार्टी एकजुट होकर केंद्र सरकार के खिलाफ खड़ी हों और कानून वापस लेने का दबाव डालें।"

यह भी पढ़ें- 20 जुलाई को अंतरिक्ष की सैर पर जाएंगे जेफ बेजोस

यह भी पढ़ें- किसानों के संसद मार्च में शरारती तत्वों के घुसने के इनपुट

शिअद नेता हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि सरकार किसानों की क्यों नहीं सुन रही है? जो भी किसानों का समर्थन करता है, उसे किसानों के अधिकारों के लिए सत्र के दौरान केंद्र को मजबूर करना होगा। 500 से ज्यादा किसान आत्महत्या कर चुके हैं। हम इस कानून को निरस्त करने की मांग करेंगे।

वहीं पेट्रोल-डीज़ल और एलपीजी गैस की बढ़ती कीमतों के खिलाफ तृणमूल कांग्रेस ने अपना विरोध जताया। अपना विरोध जताने के लिए तृणमूल कांग्रेस के सांसद साइकिल से संसद पहुंचे।

बता दें कि संसद का सत्र 13 अगस्त तक चलेगा। दोनों सदनों की बैठक सुबह 11 बजे से शाम पांच बजे तक चलेगी। इस सत्र में कुल 19 बैठकें आयोजित होंगी। इस दौरान 31 सरकारी व्यावसायिक मदों (29 विधेयकों और 2 वित्तीय मदों सहित) पर विचार किया जाएगा। अध्यादेशों की जगह छह विधेयक लाए जाएंगे।

adv-img
adv-img